Breaking News

कमाई के ये 4 तरीके जिंदगी भर आएंगे काम, नहीं होगी पैसों की दिक्कत


ये समय ऐसा है जब इमरजेंसी, बुढ़ापा और रिटायरमेंट तीनों ही चीजों के लिए आपको खुद पैसों का इंतजाम करना है। आप किसी पर निर्भर नहीं रह सकते। ये जमाना आत्मनिर्भर बनने का है। जब तक आप जॉब करते हैं तब तक आपकी ऐश है। हर महीने आने वाली सैलेरी आपकी टेंशन खत्म कर देती है। मगर जब ये जॉब खत्म होगी यानी आप रिटायर होंगे उसके बाद आपको टेंशन हो सकती है। इसलिए आपके लिए जरूरी है कि ऐसे तरीके ढूंढें जो आपको रिटायरमेंट के बाद भी पैसों की तंगी न होने दें। इसका एक तरीका है निवेश, जो आप जॉब करते-करते कर सकते हैं। दूसरा तरीका हो सकता है ऐसी इनकम का सोर्स हासिल करना जो आपको मासिक इनकम दिलाए। हम यहां ऐसे 3 बेस्ट तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके लिए जिंदगी भर पैसा कमाने का तरीका बन सकते हैं। अच्छी बात ये है कि इन तरीकों में आपको कुछ करना नहीं है, बल्कि अपने पैसे का सही इस्तेमाल करना है। इन तरीकों से आपको बुढ़ापे में भी मंथली इनकम होती रहेगी।

किराया इनकम जो लोग अभी 30 वर्ष के आस-पास हैं वे रिटायरमेंट तक थोड़ा-थोड़ा पैसा जमा करके प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं। ये प्रॉपर्टी आपकी अपने आवास से अलग होनी चाहिए। जरूरी नहीं कि आप एक साथ ही इसके पैसों का इंतजाम करें। अगर आपको पीएफ की मोटी रकम रिटायरमेंट के समय मिलेगी तो आप तब भी प्रॉपर्टी खरीद सकते हैं। प्रॉपर्टी से आपको जीवन भर मासिक किराया मिलता रहेगा। ये एक बिजनेस की तरह है, जिसमें एक बार निवेश करने के बाद आपकी कमाई पक्की है। एक तरीका ये भी है कि अगर आप रिटायरमेंट के पहले ही पैसों का इंतजाम करके प्रॉपर्टी खरीद लें तो जरूरत के समय उसे बेच कर अच्छा पैसा हासिल कर सकते हैं, जो आपकी रिटायरमेंट लाइफ के लिए काफी होगा।

म्यूचुअल फंड के इस प्लान को न भूलें: म्यूचुअल फंड्स में भी आपको एक ऐसा ऑप्शन मिलता है, जिससे आपको मासिक इनकम होती रहेगी। म्यूचुअल फंड में मंथली इनकम प्लान मिलते हैं। इनमें मासिक आधार पर इक्विटी तथा डेब्ट सेगमेंट से पैसे मिलते रहते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि म्यूचुअल फंड आम तौर पर तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर रिटर्न देते हैं। पर आप चाहें तो मासिक प्लान भी ले सकते हैं, जिससे आपको हर महीने कमाई होती रहेगी। म्यूचुअल फंड की सुरक्षा एक सवाल है। मगर बता दें कि ये काफी सुरक्षित होता है, क्योंकि यहां आपका पैसा एक्सपर्ट निवेश करते हैं।

ये भी अच्छा तरीका: रिटायरमेंट का मतलब ही होता काम से आजादी। पर अगर आप दिमाग और शरीर को ताजा और एक्टिव रखना चाहें तो फ्रीलांस या पार्ट टाइम जैसे कुछ काम कर सकते हैं। आज के समय में बहुत सी कंपनियां घर से ही पार्ट टाइम या फ्रीलांस जैसे काम सौंपती है। इससे आप रिटायरमेंट के बाद हर महीने कुछ पैसा कमा सकते हैं। ये एक ऐसा ऑप्शन है, जिसके लिए जॉब के दौरान जानकारी जुटाना बेहतर है।

रिटायरमेंट के बाद अपना बिजनेस: अक्सर लोगों के दिमाग में कोई छोटा-मोटा बिजनेस करने का आइडिया होता है। पर अलग-अलग वजहों से वो इसे शुरू कर नहीं कर पाते। इनमें ज्यादातर लोग जोखिम से घबराते हैं। इसलिए जॉब छोड़कर कुछ नया कर पाने की हिम्मत नहीं कर पाते। मगर रिटायरमेंट के बाद आप अपने आइडिया में हाथ आजमा सकते हैं। करना बस इतना है कि कुछ पैसा अपने आइडिया के लिए जमा करके रखें।

No comments