Breaking News

करवाचौथ पर नयी-नवेली दुल्हन भूलकर भी ना करें ये गलतियां,हो सकता है भारी नुकसान


सुहागिने पूरे सालभर करवा चौथे के व्रत का बड़ी बेसब्री से करती हैं। इस साल करवा चौथ का यह व्रत 4 नवंबर को पड़ रहा है। महिलाएं करवा चौथ का व्रत अपने पति की लंबी आयु और उनकी मंगल कामना के लिए रखती हैं। सुहागन महिलाओं के जीवन में करवा चौथ के व्रत का काफी ज्यादा खास महत्व होता है। वैसे इस व्रत को बाकी सभी व्रतो से कठिन माना जाता है। इस व्रत में पूरे दिन पानी पीने की मनाही होती है।

इस व्रत में महिलाएं पूरे दिन निर्जला व्रत रखकर शाम को चंद्रमा को अध्र्य देकर ही अपना व्रत खोलती हैं। इस व्रत को करने में काफी ज्यादा सावधानी करनी होती है। करवा चौथ के व्रत पर कुछ चीजों का विशेष ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। तो आइए जानते हैं कि करवा चौथ के व्रत में किन चीजों का परहेज करना चाहिए।

1.इन चीजों का दान करने से बचें: करवाचौथ के दिन सुहागिन महिलाएं सफेद चीजों का दान करने से बचें। फिर बेशक वो खाने का सामान ही क्यों ना हो जैसे दूध,दही,पनीर आदि।

2.जरूरी है सरगी : करवा चौथ पर नई दुल्हन को ध्यान रखना बेहद जरूरी है कि उसकी सरगी उसके पास हो। सरगी वो होती है जो आपकी सास आपको सुबह के समय खाने के लिए देती है। इसमें बादाम और मेवों के साथ सुहाग की निशानी होती है।

3.सुई-धागे का प्रयोग ना करें:
करवाचौथ के व्रत के दौरान किसी भी धारदार वाली चीज का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। जैसे सुई,चाकू,कैंची आदि।

4.नहीं पहने सफेद और काले रंग के कपड़े: हिंदू धर्म के अनुसार किसी भी शुभ कार्य के दौरान सफेद और काले रंग के कपड़े पहनना अच्छा नहीं माना जाता है। आप भी करवा चौथ पर सफेद और काले रंग के कपड़े पहनने से बचें। हो सके तो आप लाल रंग का कपड़ा पहने क्योंकि लाल रंग सुहाग का रंग होता है।

5.करें भजन-कीर्तन: करवा चौथ के दिन व्रत करके आप कथा सुनने के बाद शाम के समय पूजा तक चांद को देखने से पहले भजन कीर्तन जरूर करें। करवा मां के गानें और भजन को आप अपने आस-पड़ोस वाली महिलाओं के साथ ध्यान-पूजन कर सकते हैं।

No comments