Breaking News

आंखों की रोशनी बढ़ा सकते हैं ये आयुर्वेदिक टिप्स, नहीं पहनना पड़ेगा चश्मा


आंखों से हम दुनिया देख पाते हैं लेकिन समय के साथ-साथ आंखें कमजोर हो जाती है। आजकल आंखों की रोशनी कम होने की समस्या हर उम्र के व्यक्ति के लिए आम हो चुकी है। छोटे-छोटे बच्चों को भी चश्मा पहनना पड़ता है। आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए आंखों की सही प्रकार से देखभाल करनी बहुत जरुरी होती है। जो लोग आंखों पर चश्मा नहीं पहनना चाहते हैं वे कुछ आयुर्वेदिक टिप्स की मदद से आंखों की रोशनी को बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक टिप्स।

1. आंखों की एक्सरसाइज करें:- आंखों से जुड़ी कुछ एक्सरसाइज करने से आंखों में रक्त संचार बढ़ जाता है जिससे आंखों की रोशनी तेज होती है। इससे आंखों में खिंचाव भी पैदा नहीं होता है और ध्यान लगाने की शक्ति बढ़ जाती है।

2. बादाम- बादाम में ओमेगा:-3 फैटी एसिड और विटामिन ई पर्याप्त मात्रा में होते हैं जो कि प्राकृतिक रुप से दिमाग की याद्दाशत्त और आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए मददगार होते हैं इसलिए बादाम का सेवन आंखों के लिए फायदेमंद होता है।

3. सौंफ:- सौंफ आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व और एंटी-ऑक्सीडेंट्स आंखों की रोशनी को कम होने से रोकते हैं। रोजाना दूध के साथ एक चम्मच सौंफ का पाउडर खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।

4. आंवला:- आंवला में विटामिन सी पर्याप्त मात्रा में होता है जो कि एक शक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट होता है। आंखों की रोशनी बढ़ाने और रेटीना को सही से काम करने के लिए प्रेरित करने के लिए आंवला का सेवन लाभकारी होता है। पानी में रोजाना आंवला का रस मिलाकर पीने से आंखों की रोशनी तेज होती है।

5. गिंको बिलोबा:- आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए गिंको बिलोबा एक लाभकारी प्राकृतिक हर्ब होता है। यह आंखों की रोशनी बढ़ाता है, ग्लूकोमा से सुरक्षा देता है साथ ही मस्कुलर डिजनरेशन से भी बचाता है। गिंको बिलोबा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरुर लेनी चाहिए।

No comments