Breaking News

रविवार के उपाय, बनते-बनते बिगड़ जाए काम तो करें ये उपाय, फिर देखें कमाल


अगर आपका भी काम बनते-बनते बिगड़ जाता है तो परेशान होने की कोई बात नहीं है। धर्मशास्त्रों के जानकारों के मुताबिक ऐसा सूर्य (Sun) के कमजोर होने से होता है। ऐसे में आपको अपने सूर्य (Sun) को मजबूत करने की जरूरत है।

ऐसी मान्यता है कि जो व्यक्ति प्रतिदिन सुबह सूर्य देव (Surya Dev) को अर्घ्य (Arghya) देता है, उसे कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती। अगर आपके लिए हर रोज ऐसा करना संभव न हो तो रविवार (Sunday) की सुबह ये काम जरूर करें।

क्योंकि रविवार (Sunday) को सूर्य देव (Surya Dev) का दिन माना जाता है। तांबे लोटे में चावल, लाल रंग के फूल और लाल मिर्च के कुछ दाने डालकर सूर्य देव (Surya Dev) को अर्घ्य दें।

ज्योतिष शास्त्रों (Jyotish Shastra) की मानें तो हर ग्रह (Grah) की अपनी-अपनी खासियत है। शास्त्रों (Shastra) में यह विशेष रूप से उल्लेखनीय है कि कौन सा ग्रह (Grah) मनुष्य को कैसा फल प्रदान कर सकता है। इसलिए हमें यह मालूम होना चाहिए कि हमें किस दिन कौन-कौन से कार्य नहीं करना चाहिए।

रविवार के दिन कुछ कार्य नहीं करने चाहिए। इन कार्यों को करने से सूर्य ग्रह के कुप्रभावों का सामना करना पड़ता है। इसलिए रविवार के दिन कुछ बातों का ध्यान रखने से सूर्यदेव की सदैव कृपा बनी रह सकती है।

रविवार के उपाय (Raviwar Ke Upay)

सामर्थ्य के मुताबिक तांबे के बर्तन, लाल कपड़े, गेंहू, गुड़ और लाल चंदन का दान करें।

सूर्य देव (Surya Dev)को कभी भी बिना स्नान के जल अर्पित न करें।

सूर्य देव (Surya Dev)को जल अर्पित करने के लिए जल में रोली या लाल चंदन और लाल पुष्प डाल सकते हैं।

सूर्य देव (Surya Dev) को अर्घ्य (Arghya) देते समय स्टील, चांदी, शीशे और प्लास्टिक बर्तनों का प्रयोग न करें।

संभव हो तो जल अर्पित करते समय इस मंत्र (Raviwar Ke Mantra) का जाप करें...

ॐ सूर्याय नम:

ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः

ऊँ घृणि: सूर्यादित्योम

ऊँ घृणि: सूर्य आदित्य श्री

ऊँ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय: नम:

No comments