Breaking News

डायबिटीज और ब्लड प्रेशर का देसी इलाज है जामुन, इसके फायदे जानकर आप भी रह जाएंगे दंग


जामुन एक रसीला और स्वादिष्ट मौसमी फल है, जिसमें भरपूर मात्रा में ग्लूकोज और फ्रुक्टोज के अलावा कई जरूरी लवण पाए जाते हैं जिनकी शरीर को आवश्यकता होती है. जामुन में मौजूद औषधीय गुण डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में कारगर असर दिखाते हैं. इसका इस्तेमाल कई बीमारियों में देसी दवा (Desi Medicine) के तौर पर किया जाता है. खैर आपने जामुन तो खाया ही होगा और इसके फायदों के बारे में भी सुना होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसकी पत्तियां भी सेहत के लिए फायदेमंद मानी जाती है.

आपको जानकर हैरानी होगी कि जामुन, उसकी गुठली और पत्ते डायबिटीज, कैंसर, बवासीर, दस्त, पेचिश, हाई ब्लड प्रेशर जैसी समस्याओं की कारगर औषधि मानी जाती है. चलिए जानते हैं इसके हैरान करने वाले फायदे (Benefits of Jamun).

1- डायबिटीज डायबिटीज के मरीजों के लिए जामुन का फल ही नहीं बल्कि इसके पत्ते भी बेहद उपयोगी माने जाते हैं. जामुन का सेवन करने के अलावा उसकी गुठलियों का चूर्ण बनाकर खाने से डायबिटीज के रोगियों को फायदा होता है. 

2- ब्‍लड प्रेशर ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए जामुन का इस्तेमाल एक कारगर देसी औषधि के तौर पर किया जा सकता है. जामुन और उसकी पत्तियों का सेवन करने से रक्त वाहिकाएं स्वस्थ रहती हैं, जिससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही तरीके से होता है.

3- बेहतर पाचन अगर आप अपच और खराब पाचन की समस्या से परेशान हैं तो जामुन में इसका कारगर समाधान छुपा हुआ है. आयुर्वेद के अनुसार, जामुन के पत्तों में पाचन को ठीक रखने के गुण पाए जाते हैं. इसके नियमित सेवन से पाचन क्रिया बेहतर होती है.

4- मुंह के छाले जामुन में एंटी बायोटिक गुण पाए जाते हैं, जिससे मुंह के छालों की समस्या से निजात मिलती है. अगर आप मुंह के छालों से परेशान है तो जामुन की पत्तियों का सेवन करें इससे आपको इस समस्या से पूरी तरह से निजात मिल सकती है.

5- दस्त प्राचीन काल से ही दस्त में देसी दवा के तौर पर जामुन का इस्तेमाल किया जा रहा है. अगर किसी को दस्त हो रहे हैं तो जामुन को सेंधा नमक के साथ खाना चाहिए. खूनी दस्त होने पर भी जामुन के बीजों का इस्तेमाल करना फायदेमंद माना जाता है.

6- अल्सर अल्सर की समस्या से राहत पाने के लिए भी आप जामुन का इस्तेमाल कर सकते हैं. दरअसल, जामुन के पत्ते में विशेष औषधीय गुण पाए जाते हैं जिससे अल्सर की समस्या से काफी हद तक निजात पाई जा सकती है.

7- दांतों की समस्या 
अगर आप दांतों और मसूड़ों से जुड़ी समस्या से परेशान हैं तो जामुन का इस्तेमाल करना फायदेमंद साबित हो सकता है. इसके लिए जामुन के बीज को पीस कर उससे मंजन करना चाहिए. इससे दांत और मसूड़े मजबूत होते हैं.

गौरतलब है कि बुखार के इलाज के लिए जामुन एक देसी औषधि है. दरअसल, जामुन की पत्तियों का इस्तेमाल किए जाने से शरीर का तापमान नियंत्रित होता है और बुखार में आराम मिलता है.

No comments