Breaking News

सिराज बोले, 'जब हम मैदान पर पहुंचे तो विराट भाई ने कहा-मियां तैयार हो जाओ..'


 रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) के कप्तान विराट कोहली ने बुधवार को यहां कहा कि उनकी टीम ने इस बार हर तरह की परिस्थिति के लिये रणनीति तैयार कर रखी है और यही कारण है उन्होंने कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ वाशिंगटन सुंदर की जगह मोहम्मद सिराज को नई गेंद सौंपी. कोहली की यह रणनीति कारगर साबित हुई. सिराज ने चार ओवर में आठ रन देकर तीन विकेट लिये. केकेआर आठ विकेट पर 84 रन ही बना पाया. आरसीबी ने 13.3 ओवर में लक्ष्य हासिल करके इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपनी स्थिति मजबूत की. मैन ऑफ द मैच घोषित किए गए मोहम्‍मद सिराज ने कहा, ''विराट भाई का आभार कि उन्होंने मुझे नई गेंद दी. मैंने नई गेंद से काफी अभ्यास किया था. हमने यह योजना नहीं बनायी थी कि मैं नई गेंद से गेंदबाजी करूंगा लेकिन जब हम मैदान पर पहुंचे तो विराट भाई ने कहा, मियां तैयार हो जाओ. नीतीश राणा को की गयी गेंद बहुत अच्छी थी. हमने वैसा ही किया जैसे रणनीति बनाई थी.''

आरसीबी के कप्‍तान कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘मैं वाशी (सुंदर) को नई गेंद सौंपने की सोच रहा था. टॉस गंवाना अच्छा रहा क्योंकि हम भी पहले बल्लेबाजी करते. हमारी रणनीति वाशी और (क्रिस) मॉरिस से गेंदबाजी का आगाज करवाना था लेकिन तब हमने मॉरिस और सिराज को नयी गेंद सौंपने का फैसला किया.'' उन्होंने कहा, ‘‘टीम मैनेजमेंट ने ऐसी संस्कृति तैयार की है जहां सटीक रणनीति होती है. हमारे पास प्लान ए, प्लान बी और प्लान सी होता है. हमें इस रणनीति पर अमल करना होता है. हमने नीलामी में भी कुछ चीजें की थी, जिसका फायदा मिल रहा है. आपके पास सभी योजनाएं होती है लेकिन आपको अपने खिलाड़ियों पर विश्वास होना चाहिए.'' कोहली ने मॉरिस और सिराज की विशेष रूप से प्रशंसा की.

उन्होंने कहा, ‘‘मॉरिस जिम्मेदारी बखूबी निभा रहा है. वह ऐसा खिलाड़ी है जो नेतृत्व करना चाहता है. वह ऊर्जावान है. वह गेंद से, बल्ले से और क्षेत्ररक्षण में योगदान दे सकता है.'' आरसीबी के कप्‍तान ने कहा, ‘‘सिराज के लिये पिछला साल मुश्किल रहा और उसकी काफी आलोचना हुई. इस बार उसने कड़ी मेहनत की और वह नेट्स पर भी अच्छी गेंदबाजी कर रहा था. अब उसके परिणाम नजर आ रहे हैं. '' उधर, केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन स्वाभाविक था कि इस हार से निराश थे लेकिन उन्होंने कहा कि वह शीर्ष क्रम भारत के तीनों बल्लेबाजों शुभमन गिल, राहुल त्रिपाठी और नीतीश राणा पर भरोसा बनाये रखेंगे. मोर्गन ने कहा, ‘‘हमने शुरू में ही चार या पांच विकेट गंवा दिये. हम ऐसी शुरुआत नहीं चाहते थे. यह निराशाजनक था. 

आरसीबी ने बहुत अच्छी गेंदबाजी की लेकिन हमें उनका अच्छी तरह से सामना करना चाहिए था. ओस को ध्यान में रखकर हमें शायद पहले गेंदबाजी करनी चाहिए थी.'' उन्होंने कहा, ‘‘शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों के चयन को लेकर हमने निरंतरता दिखायी है. हमारा मानना है कि वे हमें आगे ले जा सकते हैं. उन्होंने अपनी क्षमता दिखायी है. इसलिए भारतीय बल्लेबाजों पर विश्वास दिखाना महत्वपूर्ण है.''आंद्रे रसेल और सुनील नारायण पूरी तरह से फिट नहीं होने के कारण इस मैच में नहीं खेल पाये लेकिन मोर्गन ने उम्मीद जतायी कि वे अगले मैच में चयन के लिये उपलब्ध रहेंगे. उन्होंने कहा, ‘‘उम्मीद है कि रसेल और नारायण फिट होकर चयन के लिये उपलब्ध रहेंगे. उन जैसे दो शानदार खिलाड़ियों की बहुत कमी खलती है.''

No comments