Breaking News

IPL ने बदल दी इन 4 क्रिकेट खिलाड़ियों की जिंदगी


क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। यह इसलिए भी कि न केवल इसमें रिजल्ट को लेकर अनिश्चितता बनी रहती है बल्कि इसे खेलने वाले खिलाड़ी भी अपने प्रदर्शन को लेकर अनिश्चित रहते हैं। इस खेल में एक अच्छे से अच्छा बैट्समैन भी 0 रन पर आउट हो सकता है। क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे रिकॉर्ड बने है जो तोड़े नहीं जा सकते है। ऐसे कई खिलाड़ी हुए है, जिनकी तरह कोई और दूसरा खिलाड़ी नहीं हो सकता है। भारत में क्रिकेट बहुत फेमस है। यहाँ पर क्रिकेट को धर्म माना जाता है और क्रिकेटर को भगवान। इसका उदाहरण भारतीयों की दीवानगी और सचिन तेंदुलकर है।

जब से भारत में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की शुरुआत हुई है तब से कई क्रिकेटर की किस्मत चमकी है। बात चाहे शोहरत की हो या दौलत की, कुछ क्रिकेटर ऐसे हैं जो अर्श से उठकर फर्श तक आये है और पूरे वर्ल्ड क्रिकेट पर इन्होंने अपनी पहचान और धाक जमाई है। आइये आज हम ऐसे ही 4 क्रिकेटरों के बारें में जानते हैं जिनका सितारा रातों रात चमका।

1- वरुण चक्रवर्ती: वरुण चक्रवर्ती (जन्म 29 अगस्त 1991) एक भारतीय क्रिकेटर हैं। इन्होंने 20 सितंबर 2018 में विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु के लिए अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया। वह 2018-19 में विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। वरुण चक्रवर्ती उस समय चर्चा में आये जब किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें 8.4 करोड़ की राशि में खरीदा। यह रकम उनकी बेस प्राइस का 40 गुना थी।

अगर वरुण के छोटेपन की बात की जाए तो उन्होंने क्रिकेट खेलना बचपन से ही शुरू कर दिया था। फिर कुछ ऐसा हुआ कि उन्होंने इस खेल को 12वीं क्लास में छोड़ दिया। इसके बाद उन्होंने 5 साल का आर्किटेक्ट का कोर्स किया। फिर एक फर्म में दो साल तक काम किया। 25 साल के होने पर वरुण ने क्रिकेट खेलने का फैसला किया और मालामाल गए। वरुण की यह कहानी उनके लिए एक प्रेरणा है जो जॉब भी करते हैं और क्रिकेटर भी बनना चाहते हैं।

2- जयदेव उनादकट जयदेव उनादकट (Jaydev Unadkat) आईपीएल 2019 के सबसे महंगे गेंदबाज़ रहे हैं। राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें 8.4 करोड़ की राशि में खरीदा था। जयदेव का पूरा नाम जयदेव दीपक भाई उनादकट है। इनका जन्म 18 अक्टूबर को पोरबंदर में हुआ था। इनकी क्रिकेटिंग प्रतिभा को इनके स्कूल कोच राम अदेदरा ने पहचाना था।

जयदेव भारतीय क्रिकेट टीम की तरफ से भी खेल चुके हैं। इसके अलावा वह इंडिया ए, दिल्ली डेयरडेविल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के लिए खेल चुके हैं। अभी घरेलु मैच सौराष्ट्र की तरफ से खेलते हैं। जब यह कोलकाता की तरफ से आईपीएल खेल रहे थे तब गेंदबाज़ी कोच वसीम अकरम ने इनकी प्रतिभा को निखारा और इनकी गेंदबाज़ी में निखार लाया।

3- सौरभ तिवारी सौरभ सुनील तिवारी (जन्म 30 दिसंबर 1989) एक भारतीय एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेटर हैं। तिवारी बाएं हाथ के मध्य क्रम के बल्लेबाज हैं। वह मलेशिया में 2008 U/19 क्रिकेट विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के प्रमुख बल्लेबाजों में से एक थे। सौरभ (Saurabh Tiwary) जमशेदपुर के रहने वाले हैं। अंडर-19 वनडे विश्व कप 2008 की विजेता टीम का हिस्सा रहे सौरभ तिवारी ने 2010 में मुंबई इंडियंस के लिए शानदार खेल दिखाया था।

सौरभ 2008 में मुंबई इंडियंस से जुड़े थे। इसके बाद 2011 में वह रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की तरफ से खेलते हुए वह दिल्ली डेयरडेविल्स, राइजिंग पुणे सुपरजॉइंट्स से होकर फिर मुंबई इंडियंस में आ गए। 2011 में RCB ने सौरभ तिवारी को $1.6 मिलियन की कीमत पर खरीदा था। इसके तीन साल बाद 2014 में उनको दिल्ली डेयरडेविल्स ने 70 लाख में अपनी टीम में शामिल किया।

2017 में वह आईपीएल जीतने वाली टीम मुंबई इंडियंस का हिस्सा थे। इस साल अंतिम लीग मैच में उन्होंने शानदार पारी खेली थी। भले ही मुंबई इस साल का खिताब जीत गयी लेकिन सौरभ को फिर नहीं खरीदा। सौरभ आईपीएल में कई टीमों की तरफ से खेले इसका असर उनके करियर पर पड़ा। शानदार पारियां खेलने के बाद भी आज सौरभ तिवारी गुमनाम से हैं।

4- क्रुनाल पांड्या हार्दिक पांड्या के भाई क्रुनाल पांड्या (Krunal Pandya) आज किसी परिचय के मोहताज नहीं है। क्रुनाल हिमांशु पांड्या (जन्म 24 मार्च 1991) एक भारतीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर हैं। वह एक ऑलराउंडर है, जो बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते है और बाएं हाथ से ऑर्थोडॉक्स स्पिन गेंदबाज़ी करते है।

क्रुनाल घरेलू क्रिकेट में बड़ौदा और आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हैं। उन्होंने नवंबर 2018 में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया। क्रुनाल ने 2016 में आईपीएल में डेब्यू किया। तब से वह मुंबई के लिए एक प्रमुख खिलाड़ी रहे हैं। मुंबई ने उन्हें 2016 में 2 करोड़ रुपये में खरीदा था।

No comments