Breaking News

भिगोकर खाएं किशमिश, इन 8 बीमारियों से मिलेगा छुटकारा


आजकल कब्ज की समस्या एक आम समस्या बन गई है। ज्यादातर लोग कब्ज की समस्या से परेशान रहते हैं। ऐसे में रोजाना सुबह भीगी हुई किशमिश खाने से कब्ज से राहत मिल सकती है। इसका कारण यह है कि यह फाइबर के एक बड़ा स्रोत है।
मुलायम सी दिखने वाली किशमिश हड्डियों को भी मजबूत बनाने में सक्षम होती है। ऐसे में अगर आप जोड़ों के दर्द, घुटनों के दर्द से परेशान रहते हैं तो आपके लिए किशमिश का सेवन करना काफी लाभदायक रहेगा।

किशमिश हड्डियों को मजबूत ही नहीं करती है बल्कि इसमें मौजूद विटामिन ए, विटामिन बी कंपलेक्स और सेलेनियम शरीर में होने वाले गुप्त रोगों, कमजोर लीवर और कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत बनाने का काम करते हैं। इसके लिए अगर आप किशमिश को रात में पानी में भिगोकर रखें और सुबह उस पानी का सेवन करें तो काफी लाभ नजर आएगा।

किशमिश में आयरन और विटामिन बी कंपलेक्स भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिसकी वजह से किशमिश का सेवन करने से शरीर में आयरन की कमी को आसानी से दूर किया जा सकता है। एनिमिया के मरीजों को किशमिश का सेवन करना काफी लाभदायक होता है।

किशमिश में विटामिन बी कंपलेक्स, सेलेनियम, आयरन के अलावा कई सारे एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो आंखों की रोशनी बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके लिए प्रतिदिन पांच किशमिश खाना फायदेमंद होता है।
अगर आप पाचन तंत्र की समस्या से परेशान रहते हैं तो आपको सुबह खाली पेट 4-5 भीगे हुए किशमिश का सेवन करना काफी फायदेमंद साबित होगा। इसमें फाइबर की मात्रा होने के कारण या पाचन को दुरुस्त करता है।

किशमिश में फाइबर के साथ और भी कई अन्य तत्व मौजूद होते हैं जो कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करते हैं और दिल की बीमारियों से भी बचाव करते हैं। हाई ब्लड प्रेशर के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है। इसमे पाए जाने वाला पोटैशियम तत्व हाइपरटेंशन से बचाव करता है।
किशमिश को भिगोकर खाने और इसका पानी पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो इम्यूनिटी को बूस्ट करता है। यह विटामिन सी का बेहतर स्रोत है।

No comments