Breaking News

भूखे लोगो का पेट भरता है यह संघठन | जानिये इसके बारे में...


वर्ष 2016 के बाद हमारे देश की इकॉनमी दर में काफी सुधार हुआ है | जिससे हमारी अर्थव्यवस्था भी काफी मजबूत हुई है | भारत इन दिनों जिस तेजी से विकास कर रहा है जिसे देखकर भारत के पडोसी देश भी चकित है | लेकिन यदि हम हमारे देश की गरीबी की बात करे तो आज भी हम उसी जगह है जब हम आजादी प्राप्त करने के समय थे | भारत में कई लोग तो ऐसे है जो भूख और गरीबी से काफी परेशान है | इन लोगो में सबसे ज्यादा किसान है जो आये दिन आत्महत्याएँ कर रहे है | 

हमने 2030 तक भारत से भुखमरी हटाने का संकल्प किया है | जिसे शुन्य भुखमरी ( ज़ीरो हंगरी ) का नाम भी दिया है | इसी प्रयास को सफल बनाने में जहाँ सरकार तो कोशिश कर रही ही है वही दूसरी और कुछ गैरसरकारी संगठन भी इसमें अपना बखूबी योगदान दे रहे है | आज हम ऐसे ही एक संगठन के बारे में बताने जा रहे है जो रेस्टोरेंट से बचे हुए खाने को गरीब लोगो तक पहुंचा रहे है | इस संघटन का नाम है रॉबिनहुड आर्मी | इस संघटन के संस्थापक नील घोष है |

इस संगठन की शुरुआत 6 समाजसेवकों के साथ 2014 में दिल्ली में हुई थी। उस समय ग्रुप के सदस्य हौजखास फ्लाईओवर्स के पास गरीबों को खाना बांटते थे। रॉबिनहुड आर्मी ने 150 से भी अधिक अनाथ लोगों के साथ इस मिशन की शुरुआत की थी। आज पूरी दुनिया के 80 से भी अधिक नगरों में यह संगठन लगभग ढाई लाख से भी अधिक लोगों का पेट भर रहा है।

नील घोष जोमैटो में वाइस प्रेसिडेंट के पद पर काम कर चुके है | नील ने कहा की"- हमें शुरू में तो ये भी पता नहीं था की 150 जरुरत मंद लोगो को खोज भी पाएंगे नहीं। रोबिनहुड आर्मी की फूड ड्राइव ज्यादातर संडे को रखी जाती है ताक‌ि ज्यादा से ज्यादा लोग पहुंच सकें। इस आर्मी का प्रत्येक ग्रुप लीडर वाट्सप से जुड़ा है जिससे हम एक दूसरे से बंधे रहते है | मात्र दो घंटे का समय देकर कोई भी व्यक्ति इस संघटन से जुड़ सकता है।

No comments