Breaking News

कोरोना काल में घर बैठे ऑर्डर करते हैं सामान? ध्यान रखें ये खास बातें


पूरा विश्व कोरोना महामारी से जंग लड़ रहा है. इस जंग में लॉकडाउन ही एक मात्र कारगर हथियार अभी तक साबित हुआ है. आवाजाही बंद होने के कारण इंडस्ट्री सेक्टर पर इसका बहुत बुरा असर पड़ा है. इस वजह से पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था में भारी गिरावट आई है, जो कि चिंताजनक है. किसी भी देश की अर्थव्यवस्था के लिए ट्रेड काफी मायने रखता है. विश्व व्यापार संगठन के मुताबिक, 2020 में व्यवसाय में 9.2% की गिरावट आई है, जिसका तत्काल उपाय तलाशने की जरूरत है. अगर इसका उपाय नहीं तलाशा गया तो ये हमें आर्थिक मंदी की तरफ धकेल सकता है.

बिजनेस डील करने के लिए लोगों को एक जगह से दूसरी जगह यात्रा करनी पड़ती है, लेकिन महामारी के इस संकट काल में ऐसा करना संभव नहीं है. इस स्थिति में यह जानने का मौका मिला कि आर्थिक विकास के लिए व्यवसाय कितना जरूरी है. इस घातक महामारी के मद्देनजर उद्यमियों को पैरों पर खड़े होने के लिए स्वदेशी ट्रेड प्लेटफॉर्म की सबसे ज्यादा जरूरत है.

ट्रेडोलॉजी के फाउंडर जेके अरोड़ा के मुताबिक, अब वो समय आ चुका है कि सभी ट्रेडर्स को डिजिटल प्लेटफॉर्म की मदद से ही अपना ट्रेड आगे बढ़ना चाहिए और घर बैठे ही सारी डील करनी चाहिए. सिर्फ एक मोबाइल और लैपटॉप की मदद से आप अपनी बिजनेस डील हैंड टू हैंड ऑनलाइन ही फिक्स कर सकते है. इससे बिजनेस में मिडिलमैन की भागीदारी खत्म होने के साथ 100 प्रतिशत पारदर्शिता भी रहेगी.

इस बात से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में सभी ट्रेडर्स ऑनलाइन प्लेटफॉर्म की मदद से ही अपना बिजनेस आगे बढ़ा सकते है. इससे न केवल भारतीय अर्थव्यवस्था, बल्कि पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था में एक नया उछाल देखने को मिलेगा. डिजिटल प्लेटफॉर्म हमारे ट्रेडिंग के तरीकों को पूरी तरह बदल देगा.

No comments