Breaking News

लॉकडाउन में इस बच्चे की मां की नौकरी चली गयी और घर चलाने के लिए बच्चे ने चाय बेचने का फ़ैसला किया


सुभान जब दो साल का था तो पिता का साया सिर से उठ गया और घर संभालने के लिए उसकी मां को काम करना पड़ा. सुभान की बहनें भी हैं. नौकरी जाने से पहले उसकी मां स्कूल बस में अटेंडेंट का काम करती थी. लॉकडाउन इस परिवार के लिए मुसीबतों का पहाड़ लेकर आया परिवार चलाने वाली मां की नौकरी चली गई. इसके बाद सुभान ने घर संभालने का फ़ैसला किया ताकि उसकी बहनें ऑनलाइन क्लास ले सकें. 

इस बच्चे ने ये भी कहा, "मेरी मां स्कूल बस अटेंडेंट का काम कर करती है लेकिन इस समय स्कूल बंद हैं तो घर में आर्थिक तंगी है. मैं भेंडी बाज़ार में चाय बनाता हूं और नागपाडा, भेंडी बाज़ार और बाकी इलाकों में चाय बेचता हूं. मेरे पास दुकान नहीं है. मैं दिन के 300-400 रुपये कमाता हूं. ये पैसे मैं अपनी मां को देता हूं और थोड़ा बचाता हूं."

सुभान की मां उसे एयर फ़ोर्स में पायलट बनते देखना चाहती है और उसकी पढ़ाई को लेकर बहुत स्ट्रिक्ट है. इसलिए मुश्किल वक़्त में अपने बच्चे को पढ़ाई छोड़ घर चलाता देख उन्हें दुःख हुआ होगा.

अच्छी बात यह है कि इस परिवार की मदद के लिए खड़े हो गए हैं. आशा है सुभान और उसके परिवार की मुश्किलें थोड़ी आसान हो जाएंगी.

No comments