Breaking News

इस धनतेरस पर जरूर करे ये उपाय, पूरी होगी मनचाही मुराद


दीवाली से एक दिन पहले मनाये जाने वाले त्यौहार धनतेरस का हिन्दू धर्म में बड़ा महत्व है | इस दिन लोग घर के सामान और आभूषणों की खरीददारी करते है | बताया जाता है कि धनतेरस के दिन की गयी खरीददारी शुभ फल प्रदान करती है | शास्त्रों के अनुसार धनतेरस का त्यौहार भगवान धन्वंतरि का त्यौहार माना जाता है | इसीलिए धनतेरस के दिन धन्वंतरि की पूजा अर्चना करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है | वैसे धनतेरस के दिन आप कुछ टोटके या उपाय भी कर सकते है, जो आपकी हर इच्छा पूरी करने की क्षमता रखते है | तो आइये जानते है, आज की इस पोस्ट में आपके लिए क्या ख़ास है |

सुबह करे ये काम: ज्योतिष के अनुसार धनतेरस के दिन जब आप उठे तो सबसे पहले अपनी दोनों हथेलियों को जोड़कर चन्द्रमा की आकृति बनाये | इसके बाद अपनी हथेली को चूमे और अपने चेहरे पर तीन बार फेरे | ऐसा बताया जाता है कि इससे शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है |

जलाये इतने दीपक: धनतेरस के दिन दीपक भी जलाये जाते है | आप धनतेरस के दिन घर के अंदर 13 दीपक जलाये और घर के बाहर 13 दीपक जलाये | ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से गरीबी और मन के अंधकार से मुक्ति मिलती है | इसके अलावा ये माता लक्ष्मी और भगवान कुबेर के घर में आने का निमंत्रण होता है | इतना ही नहीं ये उपाय घर से नकारात्मकता को भी दूर करता है |

इस बात का जरूर रखे ख्याल: धनतेरस के दिन घर के सदस्यों के लिए कुछ ना कुछ उपहार खरीदने की परम्परा है | ऐसे में आप भी घर के सभी सदस्यों के लिए कुछ ना कुछ खरीदे | हालाँकि इस दिन आप किसी बाहरी के लिए कुछ ना खरीदे | ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से माँ लक्ष्मी व्यक्ति का साथ छोड़कर दूसरे व्यक्ति के पास चली जाती है |

नहीं टिकता धन: 
यदि आपके पास धन नहीं टिकता है और इस वजह से आप आर्थिक परेशानी से घिरे हुए है | तो ऐसे में आप धनतेरस और दीपावली के दिन माँ लक्ष्मी को लौंग अवश्य चढ़ाये | आप माँ लक्ष्मी को 1 जोड़ी लौंग चढ़ाये, इस बात का भी ख्याल रखे की लौंग साबुत हो | टूटी हुई लौंग अर्पित करने से कोई लाभ प्राप्त नहीं होता है |

अवश्य लगाए ये पौधा: ज्योतिष में बताया गया है कि धनतेरस के दिन मंदिर में केले या कोई सुगंधित पुष्प का पौधा अवश्य लगाना चाहिए | ऐसा माना जाता है कि जैसे जैसे ये पौधा बढ़ता है, वैसे वैसे व्यक्ति के जीवन में सफलता बढ़ती चली जाती है | इससे नौकरी, व्यापार-कारोबार में दिन दूनी रात चौगुनी तरक्की होती है |

No comments