Breaking News

पथरी को गलाकर पेशाब के रास्ते बाहर निकाल देगा यह पत्ता


किसी व्यक्ति को पथरी होने का कारण गुर्दे की भीतरी परत पर विघटित खनिजों का इकट्ठा होना है। पथरी आमतौर पर कैल्शियम ऑक्सालेट के होती है लेकिन यह कई अन्य यौगिकों से बनी हो सकती है। क्रिस्टलीय संरचना के आकार वाले पत्थर बॉल के आकार में गुर्दे में जमा हो जाते हैं। ये पत्थर छोटे आकार के हो सकते हैं और मूत्र के रास्ते से बाहर नहीं आ पाते, जिसकी वजह से शरीर में अत्यधिक दर्द हो सकता है। आज हम आपको पथरी होने के कारण और उपचार बताने जा रहे हैं। आप इन तरीकों का इस्तेमाल करके पथरी होने से खुद को बचा सकते हैं।

लक्षण

किसी व्यक्ति को पथरी है ये बात आमतौर पर तब जाहिर होती है जब ये पत्थर मूत्र के माध्यम से बाहर नहीं आ पाते हैं। गुर्दे में पत्थरी होने के लक्षणों में आम तौर पर तेज दर्द, मूत्र में खून, उल्टी और मतली, मूत्र में सफेद रक्त कोशिकाएं आना, उत्सर्जित मूत्र की कम मात्रा, पेशाब के दौरान जलन और बार बार पेशाब लगना शामिल हैं। शरीर के अंदर मौजूद पथरी गुर्दे को मूत्राशय से जोड़ने वाली ट्यूब के बीच अवरोध सहित कई अन्य परेशानियों का भी कारण बन सकती है, जो मूत्र के बाहर निकलने वाले मार्ग को बाधित करता है। शोध के मुताबिक, जिस व्यक्ति को पथरी होता हो उसे गुर्दें की कई बिमारियां होने का खतरा होता है।
कारण

पथरी आकार में अलग अलग हो सकती है। किसी व्यक्ति को पथरी होने का मुख्य कारण शरीर में पानी की कमी है। पथरी आमतौर पर उन व्यक्तियों में पाई जाती है जो एक दिन में आठ से दस गिलास से कम पानी पीते हैं। जब शरीर को यूरिक एसिड को कम करने के लिए पर्याप्त पानी नहीं मिलता तो मूत्र अधिक अम्लीय हो जाता है जिसकी वजह से गुर्दे में पथरी बनने लगती है।

पथरी होने के कारण और उपचार

आमतौर पर देखा जाता है कि लोग पथरी होने के कारण और उपचार से बारे में ज्यादा कुछ नहीं जानते हैं। इसलिए आज हम आपको पथरी होने के कारण और उपचार बताने जा रहे हैं। हमने देखा है कि पथरी जल्दी से निकल जाए इसके लिए डॉक्टर मरीज को कई तरह की दवाइयां देते हैं। लेकिन कई रोगियों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता हैं। इसलिए आज हम आपको एक ऐसा आयुर्वेदिक नुस्खा बताने जा रहे हैं जिससे आप अपनी पथरी का इलाज कर सकते हैं। हमने आपको ऊपर पथरी होने के कारण और इसके लक्षण बता दिये हैं।

ये बात तो हम सभी जानते हैं कि पथरी कि वजह से किसी इंसान को असहनीय दर्द सहन करना पड़ता है। इसलिए आज हम आपको पथरी के इलाज के बारे में बताने जा रहे हैं जो पूरी तरह से सुरक्षित है। आप इसे अपनाकर किसी भी तरह की पथरी का इलाज कर सकते हैं। इस तरीके से आप पथरी की समस्या से निजात पा सकते हैं। दरअसल, पथरी के इलाज के लिए पत्थरचट्टा का पत्ता बेहद कारगर है। इस पत्ते को सुबह खाली पेट खाने से पथरी की समस्या ठीक हो सकती है। अगर आप ऐसा करते हैं तो पथरी पेशाब के रास्ते गलकर बाहर निकल जाएगी।

No comments