Breaking News

पहली परीक्षा में Virat की टीम फेल, ये हैं भारत की हार की 4 बड़ी वजह


सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर जिसका डर था आखिरकार वो ही हुआ. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिडनी का मैदान हमेशा टीम इंडिया (India vs Australia) के लिए परेशानी का सबब रहता है और वनडे सीरीज के पहले मैच में यही देखने को मिला. भारतीय टीम को मेजबान ने 66 रनों की करारी शिकस्त दी. पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 50 ओवर में 374 रनों का पहाड़ सा स्कोर बनाया. जवाब में टीम इंडिया ने 308 रन जरूर बनाए लेकिन इसके बावजूद ये उसके लिए बड़ी हार है. सिडनी वनडे में टीम इंडिया के हक में कुछ भी नहीं गया. हार्दिक पंड्या और धवन ने जरूर अच्छी पारियां खेलीं लेकिन भारतीय टीम के सुपरस्टार फ्लॉप साबित हुए. आइए एक नजर डालते हैं टीम इंडिया की हार की पांच बड़ी वजहों पर.

टीम इंडिया की हार की सबसे बड़ी वजह रही उसकी खराब गेंदबाजी. जिस टीम के गेंदबाज 50 ओवर में 374 रन लुटा दें उसका जीतना लगभग नामुमकिन हो जाता है. भारतीय टीम सिडनी वनडे में अपने बेस्ट बॉलिंग अटैक के साथ मैदान पर उतरी थी. जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, युजवेंद्र चहल और रवींद्र जडेजा जैसे वर्ल्ड क्लास गेंदबाज उसके पास थे लेकिन इन गेंदबाजों ने बेहद ही खराब लाइन लेंग्थ से गेंदबाजी की और नतीजा मैच टीम इंडिया के हाथ से पहली पारी में ही निकल गया. मोहम्मद शमी ने 59 रन देकर 3 विकेट लिये लेकिन बुमराह ने 1 विकेट के लिए 73 रन लुटा दिये. सैनी ने 83 रन दे डाले. युजवेंद्र चहल तो शतक से चूक गए उन्होंने 10 ओवर में 89 रन दे डाले. जडेजा ने 63 रन दिये लेकिन उनकी गेंदबाजी बिलकुल फ्लैट नजर आई.

खराब फील्डिंग टीम इंडिया की हार की दूसरी सबसे बड़ी वजह रही. भारतीय गेंदबाज इसलिए महंगे साबित हुए क्योंकि उन्हें फील्डर्स से साथ नहीं मिला. शिखर धवन, हार्दिक पंड्या ने आसान कैच टपकाए. मैदान पर विराट कोहली और मयंक अग्रवाल से भी गलती हो गई. फिटनेस पर ध्यान देने वाली विराट एंड कंपनी ने कई कैच टपकाए जिसका खामियाजा टीम को भुगतना पड़ा.

ऑस्ट्रेलियाई टीम की रणनीति टीम इंडिया से बेहतर साबित हुई. आईपीएल 2020 में खेलने वाले सभी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ स्पेशल प्लान बनाया था. शुरुआती ओवर में भारतीय बल्लेबाजों के खिलाफ शॉर्ट बॉल हुई. मयंक अग्रवाल, विराट कोहली और श्रेयस अय्यर ने अपने विकेट शॉर्ट पिच गेंद पर ही गंवाए. ऑस्ट्रेलियाई टीम का होमवर्क दमदार था.

विराट कोहली मौजूदा दौर में दुनिया के नंबर 1 वनडे बल्लेबाज हैं लेकिन सिडनी वनडे में उनकी बल्लेबाजी बेहद औसत दर्जे की दिखाई दी. विराट कोहली को एडम जंपा ने एक जीवनदान भी दिया था लेकिन वो जरूरत से ज्यादा जोखिम लेते दिखाई दिये. विराट कोहली ने 21 रनों की पारी में कुछ अच्छे शॉट जरूर खेले लेकिन वो जोखिम भरे थे और इसी वजह से उन्होंने अपना विकेट गंवा दिया.

भारत की प्लेइंग इलेवन में संतुलन नहीं दिखाई दिया. टीम इंडिया सिर्फ पांच गेंदबाजों के साथ मैदान पर उतरी. छठा विकल्प ना होना टीम इंडिया को भारी पड़ता दिखाई दिया. भारत के पांचों गेंदबाज कुछ खास नहीं कर पाए और टीम को छठे गेंदबाज की कमी साफतौर पर खली

No comments