Breaking News

ये तीन कारण है क्यों टी20 विश्व कप से पहले रोहित को होना चाहिए टीम का कप्तान

These are the three reasons why Rohit should be the captain of the team before the T20 World Cup

भारतीय टीम ने 2013 के बाद से कई आईसीसी टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है. जहाँ पर उन्होंने लीग स्टेज में तो बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया. लेकिन नॉकआउट स्टेज में जाकर टीम को हार ही नसीब में होती है. जिससे अब बीसीसीआई आगे बढ़ना चाहती है.

बतौर खिलाड़ी विराट कोहली ने भारतीय टीम को बहुत कुछ दिया है लेकिन कप्तान के रूप में उन्होंने अब तक एक भी खिताब अपने नाम नहीं किया है. जिसके कारण अब टी20 विश्व कप में उनकी जगह रोहित शर्मा को कप्तानी दिए जाने की मांग भी चल रही है. रोहित बहुत सफल रहे हैं.

आज हम आपको वो 3 कारण बताएँगे. जिसके कारण विराट कोहली की जगह टी20 फ़ॉर्मेट में अब टी20 विश्व कप से पहले रोहित शर्मा को टीम का कप्तान बनाया जा सकता है. फैन्स की मांग पर बीसीसीआई क्या फैसला करेगी ये अभी तक कुछ भी बताया नहीं गया है. जिससे कुछ साफ़ नहीं है.

1. सफल कप्तान रहे हैं अब तक रोहित शर्मा जब बतौर कप्तान रोहित शर्मा के सफलता का ग्राफ देखें तो वो बढ़ता ही जा रहा है. आईपीएल में वो पहली बार 2013 में कप्तान बन गये थे. जिसके बाद से अब तक उन्होंने मुंबई इंडियंस की टीम को 4 बार आईपीएल का खिताब दिलाया है. जबकि एक बार उन्होंने चैंपियंस लीग भी जीता है.

मुंबई इंडियंस के लिए ही नहीं भारतीय टीम के लिए भी रोहित सफल कप्तान रहे हैं. भारतीय टीम को उन्होंने एशिया कप और निहादास ट्रॉफी में जीत दिलाया है. हालाँकि उन्हें कप्तानी उसी समय मिलती है. जब विराट कोहली आराम लेने का फैसला करते हैं.

इतने कम मौके मिलने के बाद भी जब रोहित शर्मा ने सफलता हासिल किया तो फिर यदि उन्हें टी20 विश्व कप से पहले छोटे फ़ॉर्मेट में नियमित रूप से कप्तान बनाया गया तो वो भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व कप को जीता भी सकते हैं.

2. विराट कोहली की असफलता भी बड़ी वजह एक तरफ जहाँ पर रोहित शर्मा बतौर कप्तान सफलता हासिल कर रहे हैं. वहीँ पर विराट कोहली असफलता का स्वाद ही चख रहे हैं. जो टीम के लिए और खुद विराट के लिए मुश्किले बढ़ाता जा रहा है. आईपीएल में वो मात्र एक बार अपनी टीम को फाइनल पहुँचा सके.

विराट कोहली ने भारतीय टीम के कप्तान के तौर पर चैंपियंस ट्रॉफी और विश्व कप 2019 खेला है. लेकिन मजबूत टीम होने के बाद भी वो खिताब अपने नाम नहीं कर पायें. जो टीम के लिए बड़ी समस्या बनकर सामने आ गयी है.

कोहली को हटा कर इसलिए भी रोहित शर्मा को कप्तानी का मौका मिल सकता है. जिससे विराट कोहली बल्ले के साथ और ज्यादा खुलकर खेलते हुए नजर आ सके. जिससे टीम को भी बहुत ज्यादा फायदा होने वाला है. खिताब जीतना आखिरकार सबसे अहम नजर आ रहा है.

3. टीम मैनेजमेंट के सोच में होगा बदलाव कोई कप्तान या कोच जब बदलता है तो टीम मैनेजमेंट में भी अपने आप ही बदलाव आ जाता है. अब विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा के आने से भी ऐसा ही बदलाव भारतीय टीम में भी नजर आएगा. जो टीम के नजरिये को भी बदल सकता है.

बड़े मैचों में बिना दबाव के कप्तानी करने का अनुभव रोहित शर्मा में नजर आता है. जो नॉकआउट स्टेज में भारतीय टीम के बहुत ज्यादा काम आ सकती है. उससे खिताब के और ज्यादा करीब जाने में भी मदद मिलेगी. कोहली पर ये दबाव बहुत हावी हो रहा था.

रोहित शर्मा बतौर खिलाड़ी और कप्तान टी20 फ़ॉर्मेट में तो आगे नजर आते हैं. अब भविष्य में वो ज्यादा जिम्मेदारी के साथ खेलते हुए नजर आ सकते हैं. जिससे टीम को पॉवरप्ले के दौरान सधी हुई शुरुआत करने में भी फायदा हो सकता है.

No comments