Breaking News

प्रदेश में लकड़ी का खंभा दिखे, तो तुरंत बताएं, पुराने खंभे बदलने के आदेश, 3 हजार का लक्ष्य


प्रदेश में कहीं पर भी यदि बिजली का खंभा लकड़ी का लगा हुआ मिले, तो तुरंत शिकायत करें। लोग यह शिकायत संबंधित क्षेत्र के बिजली बोर्ड अधिकारियों को कर सकते हैं तो वहीं जिलाधीशों को भी एसई से बात करने को कहा गया है। सभी एसई से जिलाधीश बैठकें करेंगे और उनको कहा गया है कि वे इसकी रिपोर्ट समय-समय पर दें। गौर हो कि बिजली बोर्ड को मार्च महीने तक 3000 से ज्यादा बिजली के खंभे बदलने को कहा गया है। यहां पर लकड़ी के खंभों की जगह पर स्टील के खंभे लगेंगे, जिसके लिए व्यापक बजट दिया गया है, वहीं स्टील पोल की खरीद भी की गई है।

जिलाधीशों को अब यह काम सौंपा गया है कि वे अपने-अपने जिलों में अधिकारियों से बैठक कर इसके बारे में प्लान पर चर्चा करेंगे कि कहां पर पोल बदले गए हैं, कहां पर नहीं और कब तक उनको बदला जाएगा। इस पर चर्चा कर वे अपनी रिपोर्ट भेजेंगे। अतिरिक्त मुख्य सचिव ऊर्जा को यह रिपोर्ट भेजनी होगी, जिन्होंने सभी जिलाधीशों को इस संबंध में पत्र लिखा है। ऐसे में देखना होगा कि कहां-कहां पर समस्याएं आती हैं, क्योंकि अब विंटर सीजन भी है और इस सीजन में बर्फबारी वाले इलाकों में यह काम आसान नहीं है।

देखना यह भी है कि बिजली बोर्ड इन परिस्थितियों में अपना लक्ष्य कैसे पूरा करता है। इससे पूर्व कोरोना की वजह से बिजली बोर्ड यह काम नहीं कर सका है और उसके पास समय भी ज्यादा नहीं है। मार्च महीने के लिए अब साढ़े तीन महीने का ही समय बचा है। जिलाधीशों की रिपोर्ट पर भी इस व्यवस्था का अंजाम देने में मदद मिलेगी।

प्रोग्रेस रिपोर्ट पर जिलाधीश करेंगे चर्चा

बिजली बोर्ड लिमिटेड ने सभी क्षेत्रों में बिजली की ट्रांसमिशन व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए भी नए ट्रांसफार्मर लगाने को जगह ढूंढी है। इसकी प्रोग्रेस पर भी जिलाधीश चर्चा करेंगे और जहां पर बिजली बोर्ड को इस संबंध में दिक्कत पेश आ रही है, उसे सुलझाने का जिम्मा उनको दिया गया है।

No comments