Breaking News

3 बल्लेबाज जिन्होंने बिना छक्का लगाए टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं


टेस्ट क्रिकेट में डीआरएस, थर्ड अम्पायर और अन्य कई परिवर्तन भी देरी से आए। टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाज ज्यादातर तकनीक पर ही काम करते हुए दिखाई देते हैं। जमीन पर गेंद को खेलकर चौका जड़ने की कोशिश बल्लेबाज करते हैं। हालांकि वर्तमान समय में इस परम्परा में बदलाव भी देखने को मिला है। रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच में 13 छक्के जड़कर रिकार्ड बना दिया। पहले बल्लेबाज टेस्ट क्रिकेट में गेंद को हवा में खेलने से बचते थे। कोच भी यही सिखाते थे कि जमीन पर ही शॉट खेलना है।

जमीन पर शॉट खेलने के प्रयास में कई बल्लेबाज ऐसे रहे जो अपने टेस्ट करियर में कभी छक्का नहीं लगा पाए। टेस्ट क्रिकेट में ये बल्लेबाज दिग्गजों की श्रेणी में आते हैं। एक बार भी छक्का नहीं लगा पाना थोड़ा हैरान करता है लेकिन ऐसा हुआ है। ख़ास बात यह रही कि बिना छक्के वाले बल्लेबाजों की श्रेणी में इन खिलाड़ियों ने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। अहम बात यह भी है कि इनमें भारत से भी एक बड़ा नाम शामिल है। इस आर्टिकल में ऐसे ही टेस्ट बल्लेबाजों का जिक्र किया गया है जिन्होंने बिना छक्का जड़े सबसे ज्यादा रन बनाए।

टेस्ट क्रिकेट में बिना छक्का लगाए सबसे ज्यादा रन वाले खिलाड़ी

ग्लेन टर्नरग्लेन टर्नर न्यूजीलैंड के सबसे शानदार खिलाड़ियों में से एक टर्नर को माना जाता था। 1983 में अपना अंतिम टेस्ट मैच खेलने वाला टर्नर ने करियर में 41 टेस्ट मैच खेले और 2991 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से 14 अर्धशतक और 7 शतक आए। 259 रन उनका उच्चतम स्कोर था। इस रिकॉर्ड के बाद भी उन्होंने एक बार भी छक्का नहीं लगाया। ग्लेन टर्नर ने न्यूजीलैंड के लिए वनडे क्रिकेट में भी शिरकत की। वहां उनके नाम तीन शतक थे। इतना धाकड़ खिलाड़ी होकर भी वे टेस्ट क्रिकेट में गेंद दर्शक दीर्घा में पहुँचाने में नाकाम रहे।
विजय मांजरेकर

विजय मांजरेकर भारत के लिए 1952 में टेस्ट डेब्यू करने वाले विजय मांजरेकर ने टेस्ट क्रिकेट में छक्का नहीं जड़ा लेकिन बिना छक्के के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में दूसरे नम्बर पर हैं। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 55 मैच में 3208 रन बनाए और 7 शतक जड़े। मांजरेकर के बल्ले से 15 अर्धशतक भी निकले और नाबाद 189 रन उनका उच्चतम स्कोर था।
जोनाथन ट्रॉट

जोनाथन ट्रॉट इंग्लैंड का यह मॉडर्न खिलाड़ी तकनीक के मामले में शानदार रहा है। अंतिम बार उन्होंने टेस्ट मैच 2015 में खेला था। टी20 के जमाने में भी उनके बल्ले से एक बार भी छक्का नहीं आया। 52 टेस्ट में ट्रॉट ने 3835 रन बनाए। उन्होंने 9 शतक और 19 अर्धशतक जड़े। पारी में उच्चतम स्कोर उनका 226 रन का रहा। टेस्ट मैचों में बिना छक्के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में सबसे ऊपर हैं।

No comments