Breaking News

बहुत सरल है धनवान बनना, मन की शक्ति से होगी हर कामना पूरी, पढ़ें 5 अत्यंत गुप्त रहस्य


धनवान बनने के ऐसे गुप्त रहस्य जिसे अपनाकर आप भी धनवान बन सकते हैं। ज्योतिष और अन्य माध्यमों को जानकर हम आपके लिए लाए हैं धनवान बनने के 5 ऐसे गुप्त रहस्य जिन्हें अपनाकर आप चमत्कारिक रूप से धनवान बनने की राह पर चल पड़ेंगे।

पहला रहस्य:- धन्यवाद देने की आदत डालें ईश्‍वर के पास हर कोई मांगने जाता है लेकिन धन्यवाद देने कितने लोग जाते होंगे? आपको जीवन में अब तक जो भी मिला है उसके लिए ईश्वर, प्रकृति या किसी भी व्यक्ति को दिल से धन्यवाद दें। धन्यवाद की ताकत को समझें। प्रतिपल धन्यवाद के लिए तैयार रहें, क्योंकि आगे भी आपको बहुत कुछ मिलने वाला है।

दूसरा रहस्य:-  विश्वास करें कि आप अमीर हैं यदि आप सचमुच ही धनवान बनना चाहते हैं तो आपको एक धनपति की जो सोच होती है, वैसी ही अपनी सोच बनाना होगी। आपको आपका रहन और सहन बदलना होगा। खुद को अमीर समझना होगा। विश्वास की बहुत बड़ी ताकत होती है। सोच बदलो तो भविष्य बदलेगा। जो लोग खुद को दरिद्र मानते हैं, वे हमेशा दरिद्र ही बने रहते हैं।

तीसरा रहस्य:- ईश्वर, प्रकृति या आकाश से मांगें ईश्वर, प्रकृति या आकाश के पास आपको देने के लिए बहुत कुछ है, लेकिन यदि आपके पास किसी वस्तु को पाने के लिए जी-भर की भी चाहत नहीं है तो वह नहीं मिलेगी। आपकी चाहत या मांग में ताकत होना चाहिए। उससे मांगते वक्त मन में विश्वास रखें। आपकी मांग स्पष्ट होना चाहिए। पहले कोई भी एक वस्तु मांगें और उसके मिलने का विश्‍वास के साथ इंतजार करें, तो वह निश्‍चित मिलेगी। आपकी इच्छा या मांग बदलती रहेगी तो इंतजार लंबा होता जाएगा।

चौथा रहस्य:- रात को नोट गिनकर ही सोएं 10, 50 या या 100 के नोट की एक गड्डी बना लें। आप प्रतिदिन सोने से पूर्व उन्हें गिनकर यथायोग्य स्थान पर रखकर सो जाएं। ऐसा कम से कम 43 दिन तक करें।

पांचवां रहस्य:- वास्तु के नियम मानें घर को वस्तु अनुसार ढालें। क्रोध न करें और किसी भी प्रकार के व्यसन से दूर रहें। बैठक रूम में ऐसे चित्र लगाएं जिसमें एक हंसता हुआ परिवार नजर आ रहा हो। पूजा स्थान पर माता लक्ष्मी का ऐसा चित्र लगाएं जिनके हाथों से धन की वर्षा हो रही हो। भोजन सदैव पूर्व या उत्तर की ओर मुख करके करें। दीपक जब भी जलाएं तो उसकी बाती उत्तर की ओर रखें। घर की तिजोरी में तांबे, पीतल या चांदी के सिक्के पर्याप्त मात्रा में रखें। इसके अलावा हल्दी की गांठ, पीली कोड़ियां, तांबे या चांदी के सिक्के तिजोरी में रखें। घर में वातावरण को सुगंधित बनाए रखें। देहली पूजा करें। जेब में हमेशा कुछ सिक्के रखें। अंतिम उपाय यह कि प्रति शनिवार को पीपल के वृक्ष के नीचे घी का दीपक और सुगंधित अगरबत्ती लगाएं।

No comments