Breaking News

क्रिकेट से संन्यास पर पीएम ने धोनी को लिखा पत्र, माही ने दिया यह जवाब

अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास पर पीएम मोदी ने धोनी को लिखा पत्र, माही ने दिया यह जवाब

करोड़ों क्रिकेट प्रशंसकों की पहली पसंद पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 15 अगस्त को बड़े ही सादगी भरे अंदाज में एक छोटी सी इंस्टाग्राम वीडियो के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है. जिसके बाद से ही दुनियाभर के लोगों ने धोनी के अचानक रिटायरमेंट पर अपने – अपने विचार व्यक्त किया. किसी ने धोनी ने इस फैसले पर हैरानी और निराशा जाहिर की तो कोई इन दो दशकों में भारतीय क्रिकेट को नए मुकाम तक पहुंचाने के लिए उनका शुक्रगुजार करता नजर आया है.

इन सब के बीच धोनी के लिए बेहद खास तब रहा जब देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने क्रिकेट में उनके अतुल्य योगदान के लिए एक पत्र के माध्यम से उनका आभार व्यक्त किया. माही ने यह पत्र अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा करते हुए लिखा कि ‘एक सैनिक, खिलाड़ी और कलाकार के लिए यह बेहद सम्मान की बात होती जब कोई उनकी कुर्बानी, मेहनत और काबलियत को पहचाने, शुक्रिया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आपकी तरफ से मिली तारीफ और शुभकामनाओं के लिए’.

अपने लिखे इस पत्र में पीएम मोदी ने लिखा कि आपका संघर्ष, आपका जुनून और आपकी दृढ़ इच्छाशक्ति इस देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर के युवाओं के लिए प्रेरणा स्रोत है. आप में एक नवीन भारत की रूह झलकती है. आपने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बड़े ही सौम्य तरीके से अपने संन्यास की घोषणा कर दी है मगर क्रिकेट जगत में भारत की उपलब्धियों में आपका अद्वितीय योगदान हमेशा याद किया जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि आपकी सफलताओं को सिर्फ प्रतिभा ओर मेहनत के चश्मों से ही आंका जा सकता है आप भारत के सबसे सफल कप्तानों में शुमार रहे है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को शीर्ष टीम बनाने में आपका योगदान निश्चित ही तारीफ के काबिल है. मगर मैं कहता हूं कि आपको एक खिलाड़ी के तौर पर आंकना नाइंसाफी होगी. छोटे शहर से निकल दुनिया भर में अपने प्रतिभा का परचम लहराने तक का अपना यह संघर्षमय सफर निश्चित ही प्रेरित कर देने वाला है. आप हजरों युवाओं का रोल मॉडल हो. जिन्हे देख लाखो -करोड़ों युवा अपने सपनों की मंजिल पाने तक संघर्ष के रास्ते तय करते हुए प्रेरणा लेंगे.

आपकी कामयाबी और एक बेमिसाल शख्सियत उन नौजवानों को प्रेरित करेगी जो किसी नामी गिरामी परिवार से नहीं है मगर खुद को सबसे ऊपरी स्तर पर स्थापित करने की क्षमता रखते है. आप एक बेहतर क्रिकेटर होने के साथ साथ एक बेहतरीन व्यक्तित्व भी हो. अपने अभूतपूर्व योगदान से भारतीय क्रिकेट को शिखर तक पहुंचाने के लिए आभार.

No comments