Breaking News

गोबर उठाने वाली बन गई जज, गौशाला में खाली पीपों का टेबल बनाकर की पढ़ाई

Become a judge to raise cow dung, study by making a table of empty casks in the cowshed

लेकसिटी के नाम से फेमस उदयपुर शहर अब केवल झीलों के कारण ही चर्चा में नहीं है साथ ही एक होनहार बेटी के कारण भी सुर्ख़ियों में है। उदयपुर के प्रताप नगर क्षेत्र में दूध की डेयरी चलाने वाले की बेटी सोनल शर्मा ने इस शहर और अपने माता पिता का नाम रोशन कर दिया है। वो कड़ी मेहनत के बाद आज जज बन गई है। बता दें राजस्थान न्यायिक सेवा प्रतियोगी भर्ती परीक्षा 2018 की वेटिंग लिस्ट में सोनल शर्मा ने स्थान प्राप्त कर लिया है। बुधवार को इसके नतीजे घोषित किये जाएंगे।

अपना और अपने पिता का सपना पूरा करने वाली सोनल शर्मा उदयपुर के प्रतापनगर की रहने वाली है। उनकी मां का नाम ख्यालीलाल शर्मा और पिता का नाम जसबीर है। इस दम्पति ने लव मैरिज की थी जिसके बाद 7 दिसम्बर 1993 को उनके घर एक बेटी का जन्‍म हुआ जिसका नाम सोनल रखा गया। सोनल ने स्कूल और कॉलेज में कई मेडल जीते हैं।

एलएलबी में पूरे प्रदेश में सोनल टॉपर रहीं हैं। सोनल को महाराणा मेवाड़ चैरिटेबल भामाशाह अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका। इससे पहले उदयपुर के सुखाड़िया विवि के दीक्षांत समारोह में हिस्सा लेने के बाद उन्होंने दो गोल्ड सहित तीन मेडल प्राप्त किए। उनको एक चांसलर मेडल भी मिल चुका है।

सोनल की बड़ी बहन लीना शर्मा कैग में बतौर हिंदी ट्रांसलेटर हैं तो वहीं छोटी बहन किरण शर्मा डीयू से पढ़ाई कर रही है। उनका छोटा भाई हिमांशु शर्मा अजमेर से जर्नलिज्म की पढ़ाई कर रहा है। सोनल ने बताया कि जब से वो चौथी कक्षा में थी तब से उनके पिताजी डेयरी चलाते हैं। खास बात ये कि डेयरी का सारा कामकाज सोनल और उनके माता-पिता ही देखते हैं। सोनल खुद गायों के बाड़े में काम के साथ साथ पढ़ाई भी करती हैं।

No comments