Breaking News

यहाँ का है अजीब रिवाज अजनबी लोगों के साथ हमबिस्तर होती हैं लड़कियां

यहाँ का है अजीब रिवाज अजनबी लोगों के साथ हमबिस्तर होती हैं लड़कियां

इंडोनेशिया के जावा में हर 35 दिन में एक ‘सेक्स फेस्टिवल’ मनाया जाता है। यहां सैंकड़ो लड़के-लड़कियां जमा होकर अजनबियोें संग शारीरिक संबंध बनाते हैं। जिस जगह पर ये लोग जमा होते हैं उसका नाम ‘गुनुंग केमुकस’ है। ये इंडोनेशिया में ‘सेक्स के पहाड़’ यानी ‘सेक्स हिल’ के नाम से भी जाना जाता है। यहां लोग इस फेस्ट को मनाने का अजीबोगरीब कारण बताते हैं जिसे जानकर आपको भी अचंभा होगा।

दरअसल, इंडोनेशिया में मनाए जाने वाले इस ‘सेक्स फेस्ट’ के पीछे उनकी मान्यता है कि ऐसा करने से उनकी तकदीर संवर जाएगी।मान्यता है यहां एक राजकुमार अपनी प्रेमिका जो उसकी सौतेली मां थी के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए पकड़ा गया था जिसके बाद उसकी हत्या कर दी गई थी।

उन दोनों की लाश इसी पहाड़ी पर दफ्न हैं। इस प्रथा पर अध्य्यन कर रहे सामाजिक मनोविज्ञानी कहते हैं कि, ‘ यहां आने वाले लोग एक तीर्थयात्री के तौर पर यहां आते हैं जिनका मानना है कि यदि वे यहां अपनी कामुकता का प्रदर्शन करेंगे तो उनकी तकदीर संवर जाएगी।’ जानकर आपको जरूर अजीब लगा होगा लेकिन यहां आने वाले लोगों का ऐसा ही सोचना है।

गुनुंग केमुकस नामक सेक्स के इस पहाड़ पर हर 35 दिन के अंतराल के बाद अनुष्ठान होता है जिसमें देश भर से लोग शामिल होने आते हैं। आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि इंडोनेशिया विश्व का सबसे बड़ा मुस्लिम आबादी वाला देश है। पुराने जावनिज कैलेंडर के हिसाब से यहां 35 दिन चुने जाते हैं जब रहस्यमय स्थान पर अंधेरा पसरने लगता है। तब पवित्र देवदारू पेड़ के नीचे कैंडल लाइट में चटाई बिछाकर लोग बैठ जाते हैं।
विशाल अंजीर के पेड़ों की जड़ें लटकती रहती हैं। और इसी दौरान यहां अजनबी संग संबंध बनाया जाता है। कहा जाता है कि युवराज पैंगेरन समोद्रो रानी नायी ओंत्रोवुलान के साथ भाग गए थे। ओंत्रोवुलान उनके पिता की पत्नी और सौतेली मां थीं।

ये दोनों गुनुंग केमुकस के पहाड़ पर छिप गए थे। पहाड़ के दो पवित्र दर्रों में से एक में तीर्थयात्रियों का स्नान करना जरूरी होता है। इसके बाद वे किसी अजनबी की तलाश सेक्स के लिए करते हैं। बस तभी से यह रिवाज बन गया और आज तक जारी है।

No comments