Breaking News

रोजाना नहाने के बाद साफ-सुथरे कपड़े पहनें और करें इस मंत्र का जाप

Wear clean clothes after bathing daily and chant this mantra

हमारे जीवन में ऐसे कई मोड़ आते हैं जब हम परेशानियों से घिर जाते हैं, किस्मत हमारा साथ नहीं देती और चिंता एवं कष्ट हमें अपना शिकार बना लेते हैं। ऐसे में बड़े-बुजुर्ग यही कहते हैं कि चिंता दूर करने के लिए प्रभु आराधना का सहारा लेना चाहिए।

यह बात वैज्ञानिक रूप से भी सिद्ध हो चुकी है कि जब भी हम चिंता में होते हैं या दुख हमें घेर ले तो हमें ईश्वर आराधना को ही अपना एकमात्र मार्ग मान लेना चाहिए।

भगवान का नाम लेने से मानसिक शांति मिलती है और इसके बाद हम कठिनाई से बाहर आने का रास्ता खोज पाते हैं।

लेकिन जब कभी भी हम चिंता में होते हैं या दुख हमारे ऊपर हावी हो जाते हैं तो हमें किस प्रकार प्रभु आराधना करनी चाहिए? किस मंत्र का सहारा लेना चाहिए, यह हम आपको बताने जा रहे हैं।

जब कभी भी आपको लगे कि आप बहुत परेशान हैं तो इस मंत्र का जाप करें – “ऊँ रां रां रां रां, रां रां रां रां, कष्टं स्वाहा” इसका एक माला यानि 108 बार तुलसी की माला से जाप करना फलदायी माना जाता है। कुछ दिनों तक सुबह रोजाना स्नान के बाद साफ-सुथरे कपड़े पहनें और फिर करें इस मंत्र का जाप।

इस मंत्र के अलावा एक और मंत्र है जिसे यदि सिद्ध कर लिया जाए तो वर्षों तक दुख तकलीफ समीप आने की हिम्मत भी नहीं जुटा सकते।

यह मंत्र इस प्रकार है – “नमः शांते प्रशांते ॐ ह्रीं ह्रौं सर्व क्रोध प्रशमनी स्वाहा”

इस मंत्र को एक ही बारी में 1000 बार जपना है, ऐसा करने से यह सिद्ध हो जाएगा और कुछ ही पलों में अपना प्रभाव दिखाने लगेगा। इसके बाद रोजाना केवल 21 बार ही इस मंत्र को पढ़ना है ताकि सिद्ध किए हुए मंत्र को शक्ति मिलती रहे

No comments