Breaking News

गिर गए सब्जियों के दाम: गोभी सबसे सस्‍ता तो कटहल सबसे महंगा, पांच रुपये प्रतिकिलो पालक


लग्न के आखिरी दिन शहर की सब्जी मंडियों में अधिक सब्जी आने के कारण शनिवार को मंडी में सब्जियां बहुत सस्ती बिकी। इससे ग्राहक चौंक गए। रोज-रोज महंगाई का दंश झेलने के बाद शनिवार को अचानक सब्जी का भाव गिरने के बाद खरीदारों के चेहरे पर मुस्कान दिखी तो उन्हें सुकून मिला। वाराणसी में थोक के भावों में व्‍यापक स्‍तर पर गिरावट दर्ज की गई है, अब गोभी का फूल तीन रुपये तक आ गया है जो फुटकर में पांच से सात रुपये तक बिक रहा है। 

सब्जियां हुईं सस्ती मंडी में अधिक सब्जियां आने के कारण लगभग सभी सब्जियां सस्ती बिकी। इसमें सबसे सस्ता गोभी, बैगन और पालक था। वहीं बेमौसमी सब्जियों का भाव भी रोज की अपेक्षा कम था। करैला और भिंडी भी तीस से चालीस रुपये प्रतिकिलो के भाव बिका। जबकि हर रोज सौ रूपये प्रतिकिलो बिकने वाला कटहल भी आज साठ रूपये प्रतिकिलो बिका।

टमाटर का भाव भी हुआ कम स्थानीय क्षेत्रों से टमाटर की आवक शुरु होने से टमाटर का भाव भी कम हुआ है। एक सप्ताह पूर्व तक 45-50 रुपये प्रतिकिलो बिकने वाला टमाटर शनिवार को तीस रुपये प्रतिकिलो के भाव बिका।

कल से और सस्ती होंगी सब्जियां शहर के लमही, छोटालालपुर, पंचकोशी, चंदुआ, दशाश्वमेध सब्जी मंडी में व्यापारियों ने बताया कि अब शनिवार से सब्जियां और सस्ती बिकने लगी हैं। लमही मंडी के व्यापारी भोला जायसवाल ने बताया कि शुक्रवार के बाद लग्न का समापन हो गया है। इसके बाद खरीदारों की संख्या में कमी हो रही है। जबकि आपूर्ति उतना ही होने से मंडी में माल अधिक होने से भाव भी कम होने लगा है। खरीदार कम होने से सब्जियां और सस्ती मिलने लगी हैं।

No comments