Breaking News

खुलेगी किस्मत चमकेगा भाग्य, बस करे ये आसान से उपाय

Luck will shine, luck will open, just do this easy solution

जीवन में सुख शांति और धन वैभव पाने की चाह हर किसी की होती है | वैसे हर किसी की इच्छाएँ पूरी हो जाए, ऐसा भी सम्भव नहीं है | लेकिन यदि आपके मेहनत करने और भक्ति भाव से भरे होने पर भी आपको जीवन में दुखो का सामना करना पड़ रहा है | तो कुछ छोटे छोटे उपाय है, जिन्हे आपको करने की जरूरत है | ज्योतिष में बताये गए ये उपाय बेहद ही आसान है | ये आपके जीवन से दुखो का निपटारा कर सकते है | तो आइये जानते है, आज की इस पोस्ट में आपके लिए क्या ख़ास है |

आप सुबह जब भी उठे, तो सबसे पहले अपनी दोनों हथेलियां देखे | इससे माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती है और हम पर कृपा बनाती है | हथेली देखने के बाद आप जमीन को छुए, इसके पश्चात् ही आप अपने पैर जमीन पर रखे |
हिन्दू धर्म में गाय को माता का दर्जा दिया गया है | इसीलिए गाय माता की सेवा अवश्य करे | आप सुबह जब भी खाना बनाये तो सबसे पहली रोटी गाय की ही बनाये | आप इस रोटी पर घी, चीनी या गुड़ डालकर गाय को खिलाये | इससे गौमाता के साथ साथ 33 कोटि देवी देवताओ का आशीर्वाद भी मिलता है |

शास्त्रों के अनुसार चींटियों को आटा डालने से रोगो से रक्षा होती है और सेहत तंदुरुस्त रहती है | इसीलिए आप सुबह शाम चींटियों को आटा अवश्य खिलाये | इससे उत्तम स्वास्थ्य के साथ साथ रोगो से भी रक्षा होती है |
घर में पूजाघर की नित साफ़ सफाई करे और रोजाना पूजा करे | पूजाघर में सुबह शाम दीप अवश्य जलाये | ये आपके जीवन की सुख की वजह बनेगा |

पूजाघर के साथ साथ आप घर की साफ़ सफाई का भी विशेष ध्यान दे | ज्योतिष में बताया गया है कि माँ लक्ष्मी वहीँ वास करती है, जहाँ साफ़ सफाई रहती है | इसीलिए इस पर आप विशेष ध्यान दे |

महिलाओ और बुजुर्गो का सदा सम्मान करे | भूल से भी कभी इनका अपमान ना करे, अन्यथा इसका बड़ा हर्जाना आपको भुगतना पड़ सकता है |

पीपल के पेड़ को पवित्र माना गया है, साथ ही यह भगवन विष्णु से भी जुड़ा है | इसीलिए गुरुवार और शनिवार के दिन आप पीपल की विशेष पूजा करे और जल अवश्य अर्पित करे |

सुबह जल्दी उठे और स्नान कर ले | स्नान करने के बाद पवित्र जल से पुरे घर में आज छिड़काव करे |

किसी भी शुभ कार्य से पहले गणेश जी की पूजा की जाती है | आप गणेश जी के साथ साथ अपने कुलदेवता की भी पूजा करे | इससे आपके घर में सुख शांति बनी रहेगी और दिन दूनी रात चौगुनी होगी |

No comments