Breaking News

किचन में रखीं इन चीजों की मदद से चुटकियों में भगाएं सर्दी-खांसी, ऐसे करें इस्तेमाल


खांसी-जुकाम  हर बदलते मौसम के साथ आने वाली एक आम समस्या है. खांसी बैक्टीरियल या वायरल इन्फेक्शन, एलर्जी, साइनस इन्फेक्शन या ठंड के कारण हो सकती है. हालांकि किचन में कई ऐसे घरेलु नुस्खे  छिपे होते हैं जिनसे खांसी-जुकाम जैसी बीमारी को ठीक किया जा सकता है. आइए आपको बताते हैं ऐसे ही कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में जिनके इस्तेमाल से आप आसानी से सर्दी-खांसी को ठीक कर सकते हैं.

सर्दियों में चुटकियों में सर्दी-खांसी से छुटकारा दिलाएंगे ये घरेलू उपचार

-सुबह गर्म पानी के साथ काली मिर्च का सेवन करने से इम्यूनिटी बढ़ती है और सर्दी-खांसी दूर भागती है. यह शरीर को बाहरी संक्रमण से बचाती है. खांसी के साथ बलगम आने पर देशी घी के साथ काली मिर्च का आधा चम्मच पाउडर का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है.

-अदरक में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व गले को साफ कर कफ को बाहर निकालते हैं. अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े कर नमक मिलाकर खाएं. अदरक के रस से खांसी में आराम मिलता है. दरअसल नमक से बैक्टीरिया खत्म होते हैं.

-तुलसी के पत्ते, अदरक और काली मिर्च से चाय पीने से खांसी-जुकाम में तुरंत आराम मिलता है. तुलसी-अदरक के रस में शहद मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से खांसी ठीक हो जाती है. शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता भी विकसित होती है.

-शहद, नींबू और चुटकी भर इलायची पाउडर का सेवन करने से सर्दी-खांसी में आराम मिलता है. खांसी-जुकाम से निजात के लिए शहद, नींबू और चुटकी भर इलायची पाउडर मिलाकर एक सिरप तैयार कर लें. उसका एक-एक चम्मच दिन में चार बार सेवन करने से आराम मिलता है.

-खांसी होने पर बच्चों को जायफल और सोंठ को देसी घी में घिसकर जरूर पिलाएं. अधिक खांसी आने पर जायफल को पीसकर उसमें शहद मिलाकर सेवन करने से आराम मिलता है.

-सर्दी-खांसी, गले में खरास व बुखार होने पर आंवले के रस का काढ़ा बनाकर पीना चाहिए. आंवला के एंटी ऑक्सीडेंट्स शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं. साथ ही इसमें मौजूद विटामिन सी शरीर का रक्त संचार बेहतर करता है.

-हल्दी वाले दूध को पीने से सर्दी-जुकाम में तेजी से आराम मिलता है. हल्दी एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुणों से भरपूर होती है. इसके एंटी ऑक्सीडेंट्स तत्व बैक्टीरिया से बचाव करते हैं. हल्दी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाती है.

-गिलोय का काढ़ा संक्रामक रोगों के साथ बुखार और सर्दी-जुकाम को ठीक करने में मदद करता है. गिलोय का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. यह खून भी शुद्ध करती है.

No comments