Breaking News

तो क्या टीम इंडिया के बीच में ही खत्म करना पड़ेगा अपना ऑस्ट्रेलिया टूर?

So will Team India have to finish their Australia tour in between?

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे एडिलेड टेस्ट के दौरान ही एक बड़ी खबर आई है. सीरीज़ का तीसरा टेस्ट सिडनी में खेला जाना है. लेकिन उससे पहले ही सिडनी के नॉर्थन बीच पर कोविड के 28 नए मामले सामने आए हैं.

नए साल में SCG क्रिकेट ग्राउंड पर भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरा टेस्ट खेला जाना है. लेकिन उससे पहले क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने राज्य सरकार के साथ बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी है. ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ डेविड वॉर्नर भी इस समय सिडनी में मौजूद हैं और अपनी चोट से उबरने में लगे हैं. वो भी जल्द ही मेलबर्न आ सकते हैं. बॉर्डर सील होने पर वॉर्नर वहां फंस सकते हैं. ऐसे में दूसरे टेस्ट में भी उनके खेलने की उम्मीदें कम हो जाएंगी.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इस खबर के आने के बाद से ही अलर्ट पर है. सिडनी में रहने वाले भारत-ऑस्ट्रेलिया ब्रॉडकास्ट टीम के कई सदस्यों को वापस लौटा दिया है. ब्रेट ली वापस सिडनी लौट गए हैं. जबकि गेविन रॉबर्टनसन, ब्रेड हैडिन ने भी एडिलेड छोड़ दिया है.

नॉर्थ सिडनी के एवलॉन बीच के पास 28 नए केस पाए गए हैं. जिन्हें न्यू साउथ वेल्स की सरकार ने ट्रेस कर लिया है. भारत और ऑस्ट्रेलिया की सीरीज़ सुरक्षित तरीके से खेली जा सके इसके लिए साउथ ऑस्ट्रेलिया और विक्टोरिया बॉर्डर का सुरक्षित रहना बहुत ज़्यादा ज़रूरी है. विक्टोरिया की सरकार ने न्यू साउथ वेल्स से साउथ की तरफ आने वालों के लिए परमिट सिस्टम भी जारी किया हुआ है. लेकिन फिर भी बीच-बीच में कुछ केस पाए जा रहे हैं.

कोविड के नए केस आने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चीफ एग्ज़ीक्यूटिव निक हॉकली ने कहा,

”हमने ये सोचना शुरू कर दिया है कि किस तरह से सुरक्षित माहौल में पूरी सीरीज़ खेली जा सके. जिसके लिए आने वाले दिनों और हफ्तों में हम काम करेंगे. कल 17 केस मिले, आज 10 हैं और आने वाले 72 घंटों में क्या स्थिति रहती है. इस पर नज़र रखी जा रही है.”

इस बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया मेलबर्न क्रिकेट क्लब से भी बात कर रहा है. उनसे कहा जा रहा है कि वे दो टेस्ट मैचों के लिए पिच तैयार रखें. हालांकि गर्वनिंग बॉडी अभी किसी तरह का फैसला लेने की जल्दबाज़ी में नहीं है. क्योंकि भारत के टेस्ट के अलावा अगले दो हफ्ते में तस्मानिया, क्वींसलैंड, दी एसीटी और साउथ ऑस्ट्रेलिया में बीबीएल के मैच भी होने हैं.

निक हॉकली ने आगे कहा, ”हमारी इस बारे में मेडिकल एक्सपर्ट्स के साथ बहुत सी मीटिंग हुई हैं. पूरे समर सीज़न में हमने अपने खिलाड़ियों को एक बबल में बनाए रखा है. हम स्थिति पर नज़र बनाए हुए हैं. हम किसी भी तरह की ज़ल्दबाज़ी में नहीं है. कुछ हफ्तों पहले एडिलेड की एक पिज़्जा शॉप पर भी इस तरह के मामले सामने आए थे. लेकिन हमने संयम से काम किया. खिलाड़ियों को चार्टर्ड प्लेन से 24 घंटे के अंदर एडिलेड से बाहर निकाला और पूरे सीज़न को बचाया.”

उन्होंने आगे कहा, ”हमें सिडनी में टेस्ट खेलना है और फिर न्यू साउथ वेल्स में बीबीएल के कुछ मुकाबले हैं. इस वक्त हम एडिलेड में हैं. अगला मैच मेलबर्न में खेला जाना है. अभी हम सिर्फ इंतज़ार कर सकते हैं. मुझे लगता है कि सरकार ने पूरे देश में महामारी की इस स्थिति को अच्छे से संभाला है. इसलिए हम इंतज़ार कर रहे हैं और उनके संपर्क में हैं.”

कोविड काल के बीच क्रिकेट फिर से रिज़्यूम तो हुआ है. लेकिन कई देशों में कोविड का खतरा अब भी बरकरार है. न्यूज़ीलैंड दौरे पर पाकिस्तान पहुंचे दल में से भी कई खिलाड़ी पॉज़िटिव पाए गए थे. जिसके बाद उनके घूमने फिरने पर पाबंदी लगाई गई थी.

वहीं इंग्लैंड-साउथ अफ्रीका सीरीज़ पर भी इसका असर पड़ा और खिलाड़ियों के पॉज़िटिव पाए जाने के बाद वनडे सीरीज़ रद्द करनी पड़ी. उम्मीद है कि भार-ऑस्ट्रेलिया सीरीज में ऐसा कुछ ना हो.

No comments