Breaking News

कोरोना के नए स्ट्रेन पर भी वैक्सीन असरदार, डरने की बात नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

कोरोना के नए स्ट्रेन पर भी वैक्सीन असरदार, डरने की बात नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

महामारी कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन ने चिंता बढ़ा दी है. भारत में भी इसकी एंट्री हो गई है. देश में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के कुल 6 केस मिले हैं. इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दावा किया है कि कोरोना की वैक्सीन नए स्ट्रेन पर भी प्रभावी होगी. लोगों को नए स्ट्रेन से घबराने की जरूरत नहीं है. 

भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार प्रो के विजय राघवन ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वैक्सीन यूके और दक्षिण अफ्रीका में पाए जाने वाले वेरिएंट के खिलाफ काम करेंगी. इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि वर्तमान वैक्सीन इन कोरोना वेरिएंट्स से बचाने में नाकाम रहेंगी.

वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि यूके वेरिएंट की खबर आने से पहले, हमने प्रयोगशालाओं में लगभग 5,000 जीनोम विकसित किए थे. अब हम उस संख्या में काफी वृद्धि करेंगे.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद ICMR के डीजी प्रोफेसर बलराम भार्गव ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि हम वायरस पर बहुत अधिक इम्यून प्रेशर न डालें. हमें ऐसी थेरेपी का प्रयोग करना होगा जो लाभ देने वाली हैं. यदि फायदा नहीं होता है तो हमें उन उपचारों का उपयोग नहीं करना चाहिए अन्यथा यह वायरस पर प्रेशर डालेगा और यह अधिक म्यूटेट करेगा.

नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने कहा कि नए स्ट्रेन ने कई देशों की यात्रा की है. ऐसे में हमें सावधान रहने की जरूरत है. वायरस के प्रसार को दबाना आसान है, क्योंकि ट्रांसमिशन की चेन छोटी है. उन्होंने कहा कि विदेश से आने वाले 20 में से 1 यात्री का यूके वैरियंट का टेस्ट किया जाएगा.

No comments