Breaking News

हिमाचल: दुर्लभ हिमालयन सिरो ने स्पीति के हुरलिंग में दी दस्तक, कैमरे में हुआ कैद


शनिवार को वन्यप्राणी मंडल स्पीति की टीम ने दुर्लभ हिमालयन सिरो को अपने कैमरे में कैद किया व वीडियो क्लिप बनाने में सफलता प्राप्त की जोकि वन्यप्राणी प्रभाग वन विभाग के लिए बहुत ही गर्व की बात है। स्थानीय लोग भी इस विलुप्त प्रजाति को देखकर अंचभित रह गए। वन्यजीव विलुप्त की अनुसूची एक में शामिल हिमालयन सिरो को इंटरनैशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन फॉर नेचर (आईयूसीएन) ने संकटापन्न के नजदीक श्रेणी में शामिल किया है। इस उपलब्धि के लिए वन्यप्राणी प्रभाग की मुखिया अर्चना शर्मा ने वन्यप्राणी मंडल स्पीति के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को बधाई दी और इस दुर्लभ प्रजाति के सरंक्षण व हुरलिंग क्षेत्र की निगरानी रखने के दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने यह भी बताया कि यह प्रजाति डब्ल्यूएपी 1972 के शैड्यूल-1 और सीआईटीईएस के एपैंडिक्स-1 में शामिल प्रजाति है।

इस मौक पर मुख्य अरण्यपाल वन्यप्राणी अनिल ठाकुर ने बताया कि पिछले कुछ वर्षों में यह दुर्लभ प्रजाति ग्रेट हिमालयन नैशनल पार्क और चम्बा के कुछ ऊपरी क्षेत्रों में कैमरा ट्रैप के माध्यम से देखी गई थी। इस दुर्गम क्षेत्र में यह प्रजाति साथ में लगती रूपी भावा वन्यप्राणी अभ्यरण स्थल से भटक कर आई है। कोल्ड डैजर्ट में इस प्रजाति का यह पहला फोटोग्राफिक रिकॉर्ड है। अनिल ठाकुर ने बताया कि इस दुर्लभ प्रजाति की निगरानी हरदेव नेगी वन मंडलाधिकारी वन्यप्राणी मंडल स्पीति और उनकी टीम कर रही है।

No comments