Breaking News

गावस्कर बोले- शमी का चोटिल होना बड़ी समस्या, इस खिलाड़ी को तुरंत भेजो ऑस्ट्रेलिया

Gavaskar said - Shami's injury is a big problem, send this player to Australia immediately

ऑस्ट्रेलिया  के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले ही मैच में भारत की शुरुआत बेहद खराब रही है. एडिलेड  में हुए डे-नाइट टेस्ट के तीसरे ही दिन शर्मनाक बैटिंग के कारण टीम इंडिया को करारी हार मिली. टीम की परेशानी इसलिए भी बढ़ गई है, क्योंकि कप्तान विराट कोहली अब सीरीज में आगे नहीं खेल पाएंगे और तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी भी चोट के कारण पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं. ऐसे हालात में पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने सुझाव दिया है कि अगर ईशांत शर्मा फिट हैं, तो BCCI को उन्हें तुरंत ऑस्ट्रेलिया भेजने का दांव चलना चाहिए.

शमी को एडिलेड टेस्ट के तीसरे दिन दूसरी पारी में बैटिंग के दौरान चोट लग गई थी. पैट कमिंस की बाउंसर शमी के दाएं हाथ की कोहनी में लगी, जिसके कारण वह काफी तकलीफ में दिखे और रिटायर्ड हर्ट हो गए. शनिवार रात को आई खबरों के मुताबिक, शमी के स्कैन की रिपोर्ट में फ्रैक्चर पाया गया है, जिसके कारण वह पूरी सीरीज से बाहर हो गए हैं. हालांकि, BCCI ने अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की है.

तुरंत भेजा जाए ऑस्ट्रेलिया एडिलेड टेस्ट में भारतीय टीम की गेंदबाजी बेहतर थी. टीम ने ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में सिर्फ 191 रनों पर ढेर कर दिया था. शमी को इस पारी में कोई विकेट नहीं मिला, लेकिन उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों पर दबाव जरूर बनाया था. ऐसे में सीरीज के बाकी मैचों में शमी की कमी जरूर खलेगी ही. इसको देखते हुए ही गावस्कर ने ईशांत शर्मा को ऑस्ट्रेलिया भेजने का सुझाव दिया है.

यूट्यूब चैलन स्पोर्ट्स तक से बात करते हुए पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा कि शमी का बाहर होना भारतीय टीम के लिए बड़ी परेशानी है क्योंकि वह अपनी यॉर्कर और बाउंसर से परेशान कर सकते थे. गावस्कर ने ईशांत को टीम में शामिल करने की बात करते हुए कहा,

"मेरा सुझाव है कि अगर ईशांत फिट है, तो उन्हें तुरंत ही ऑस्ट्रेलिया भेजा जाना चाहिए. अगर वह एक दिन में 20 ओवर डालने लायक हैं, तो उन्हें कल की फ्लाइट से सीधे ऑस्ट्रेलिया भेजना चाहिए ताकि वह सिडनी टेस्ट के लिए उपलब्ध हो पाएं."

चोट के कारण सीरीज से बाहर हो गए थे ईशांत ईशांत शर्मा को UAE में हुए IPL 2020 के दौरान पसलियों में चोट लग गई थी, जिसके कारण वह पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे. इसके बाद से ही वह नेशनल क्रिकेट एकेडमी में अपनी फिटनेस और रिहैबिलिटेशन पर काम कर रहे थे. हालांकि, पिछले महीने ही BCCI ने बताया था कि फिट होने के बावजूद ईशांत टेस्ट मैचों का बोझ उठाने के लिए पूरी तरह तैयार नहीं थे, जिसके बाद वह पूरी सीरीज से बाहर हो गए थे.

टीम को खेलना होगा ये दांव हालांकि, गावस्कर का मानना है कि मौजूदा हालात को देखते हुए भारतीय टीम मैनेजमेंट को ये दांव खेलना चाहिए क्योंकि टीम के पास अनुभवी बैकअप तेज गेंदबाज की कमी है. भारतीय टीम में इस वक्त नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज हैं, लेकिन दोनों ने ही टेस्ट क्रिकेट में अभी तक अपना हाथ नहीं आजमाया है. गावस्कर के मुताबिक, अभ्यास मैच में नवदीप सैनी प्रभावित नहीं कर सके थे और ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को वह परेशान नहीं कर पाएंगे. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 26 दिसंबर से मेलबर्न में दूसरा टेस्ट मैच शुरू होगा.

No comments