Breaking News

क्‍या करें जब कान में पानी चला जाएं, जानें कैसे न‍िकालें

What to do when the water in your ear goes away, know how to get out

स्विमिंग पूल में नहाते वक्त या शॉवर लेते वक्त कानों में पानी चला जाना बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम है, जिसे ज्यादातर लोग इग्नोर कर देते हैं। कानों को हल्का-सा झटका देकर लोग पानी निकाल देते हैं और रिलैक्स हो जाते हैं। लेकिन कई बार पानी कानों में बहुत अंदर तक चला जाता है जो खुजली, सुनाई न देने की समस्या और साथ ही कई प्रकार के इन्फेक्शन्स का भी कारण बनता है। समस्या ज्यादा बढ़ने पर ये बहरेपन का भी कारण बन सकता है। इस समस्या से निपटने के क्या घरेलू उपाय हैं, इन्हें जानना बहुत ही जरूरी है।

सिर को कान की तरफ झुकाकर एक पैर पर जंप करें

अगर आपके जिस कान में पानी चला गया है, उस तरफ अपना सिर झुका झुका लें और एक पैर उठाकर जंप करें। इस तरह झटके लगने से कान से पानी निकल जाता है।

कान खींचे

कान का चौड़ा हिस्सा (pinna) खीचें- पानी कान के छोटी नाली में जमा हो जाता है। इसलिए कान का चौड़ा हिस्सा खींचने से पानी बाहर आ सकता है। ऐसा करने करने के लिए अपना सिर एक तरफ झुका लें और कान के इस बड़े हिस्से को बाहर की तरफ खींचें। ये हिस्सा कान के छेद से पहले वाला बड़ा वाला हिस्सा होता है।

सिर झुकाकर जबड़ा हिलाएं

जबड़े के हिलने से कान साफ हो जाता है। ऐसा करने के लिए अपना सिर एक तरफ झुका लें। अब अपना जबड़ा खोलें और बंद करें। इससे आपको पानी बाहर निकालने में मदद मिलेगी। जल्द राहत पाने के लिए आप कान के चौड़े हिस्से को भी साथ-साथ खींच सकते हैं।

भाप लें

कानों में पानी जाने पर सबसे पहले उसकी ऑडिटरी ट्यूब बंद हो जाती है, जिससे सुनने की क्षमता पर असर पड़ता है। इस ट्यूब को खोलने के लिए स्टीम लेना बहुत ही कारगर तरीका है। बाउल के ऊपर सिर को इस प्रकार रखें कि भाप चेहरे और कानों तक पहुंचे। सिर को टावल से ढंक लें जिससे भाप बाहर न निकले। 10-15 मिनट तक अच्छे से स्टीम लें। स्टीम से कानों के अंदर का पानी सूख जाता है।

करवट लेकर सोएं

जब कोई उपाय काम नहीं करता है, तो ये तरीका आपकी मदद कर सकता है। आपके जिस कान में पानी चला गया है, आप उस तरफ करवट लेकर सोएं। इससे पानी नीचे की ओर आ सकता है। पढ़ें- कान में दर्द हो तो लहसुन का करें ऐसा इस्तेमाल

इअर बड्स या पेपर टॉवल

ये चीजें नरम होती हैं और कान के सुराग में आसानी से चली जाती हैं। कान में इअर बड्स डालने से पहले उस पर कॉटन लगा लें या पेपर टॉवल को रोल करके उसके कोने वाले हिस्से से कान साफ करें।

कुछ ना करें

ऐसा करना बेशक आपके लिए असहज हो सकता है लेकिन कई बार ये फायदेमंद होता है। इसलिए आप कुछ ना करें और इस समस्या को शरीर को हैंडल करने दें। कई बार पानी अपने आप बाहर आ जाता है।


डॉक्टर को दिखाएं

अगर दो-तीन दिन में भी पानी कान से बाहर नहीं निकला, तो आप डॉक्टर को दिखाएं। कई बार कान में पानी रहने से इन्फेक्शन का खतरा होता है।

No comments