Breaking News

पांव के बीच ताक‍िया लगाकर सोने के फायदे

Benefits of sleeping between feet

अच्छी नींद के लिए बहुत आवश्यक है कि आपके सोने का तरीका सही हो। सोने का तरीका कुछ इस प्रकार हो कि शरीर के किसी भी अंग पर किसी तरह का दबाव न पड़े। यदि रात में दोनों पैरों के बीच तकिया लगाकर किसी एक करवट सोने की आदत आप डाल लेंगे तो फिर अच्छी नींद की भी आदत आपको हो ही जाएगी। इस तरह से सोने से न सिर्फ अच्छी नींद आती है बल्कि कई सारी शारीरिक समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।

कमर और रीढ़ की हड्डी के दर्द से निजात हमारी रीढ़ की हड्डी एक जैसी लम्बी-पूरी नहीं होती है, उसमें थोड़ा घुमाव होता है। आजकल की भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण कई सारे लोग कमर और रीढ़ के दर्द से परेशान रहते हैं। इसलिए बहुत जरूरी है कि जब आप सोएं तो तकिये को दोनों पैरों के बीच रखकर एक करवट पर सोएं। ऐसा करने से कमर और रीढ़ की हड्डी पर जोर नहीं पड़ेगा। शरीर को आराम मिलेगा। दर्द शरीर से गायब हो जाएगा।

मांसपेशियों में नहीं उठता दर्द यदि आप अच्छी नींद नहीं सो पाते हैं , दिमाग में प्रतिपल कोई चिंता बनी रहती है तो दोनों पैरों के बीच तकिये को लगाकर सोएं। दोनों घुटनों के बीच तकिये को लगाने से घुटने एक दूसरे से टकराते नहीं हैं। शरीर का पॉश्चर सही रहता है जिससे कि मांसपेशियों में खिंचाव नहीं रहता है। यदि मांसपेशियों में पहले से खिंचाव महसूस हो रहा है तो इस तरह से सोएं, सुबह तक सारा दर्द दूर हो जाएगा।

गर्भवती महिलाओं के लिए है आदर्श तरीका गर्भावस्था में लंबे समय तक किसी एक स्थिति में सो पाना बहुत मुश्किल होता है। पैरों के बीच तकिया लगाकर किसी एक ओर करवट लेकर सोने से रीढ़ की हड्डी पर जोर कम पड़ता है। जिससे कि गर्भावस्था में आरामदायक नींद आती है और इससे कोई नुकसान भी नहीं होता है क्योंकि शरीर के किसी भी हिस्से पर भार नहीं पड़ता है।


No comments