Breaking News

सुबह उठते शरीर जाता है जकड़ तो सिर्फ 10 मिनट करें यह योगासन

सुबह उठते शरीर जाता है जकड़ तो सिर्फ 10 मिनट करें यह योगासन

सुबह उठने के बाद बहुत से लोगों को शरीर में जकड़न महसूस होती है। इसके कारण दर्द का भी अहसास होने लगता है। असल में, इसके पीछे का कारण रातभर एक ही पॉजिशन में सोना माना जाता है। ऐसे में सुबह 10 मिनट के लिए सिर्फ एक योगासन करने से इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं। इसके अलावा योगा करने से शरीर स्वस्थ होने के साथ दिनभर तरोताजा फील होने में मदद मिलेगी। हम जिस आसन की बात कर रहे हैं उसका नाम है 'ताड़ासन'। तो आइए जानते हैं इस आसन को करने का तरीका व फायदों के बारे में...

इस समय करें ताड़ासन...

इस आसन को सुबह के समय करना सबसे बेस्ट माना जाता है। असल में, पूरी एक ही पॉजीशन में सोने से शरीर जकड़ जाता है। ऐसे में सुबह ताड़ासन करने से बॉडी स्ट्रेच होती है। साथ ही शरीर में हलचल होने से अंदर से ऊर्जा का संचार होता है। इससे काम करने की शक्ति बढ़ती है। साथ ही दिनभर तरोताजा व हल्का महसूस होता है। इसके लिए अलावा आप इसे खाने के करीब 2-3 घंटे बाद या दिन में कभी भी 10 मिनट के लिए कर सकते हैं।

ताड़ासन करने का तरीका...

1. सबसे पहले खुली जगह पर मैट बिछाकर एकदम सीधे खड़े हो जाएं।
2. अब हाथों की अंगुलियों को बीच में से फंसाकर बाजुओं को धीरे-धीरे सिर से ऊपर की ओर ले जाएं। (आप चाहे तो हाथों को जोड़कर नमस्कार की मुद्रा में भी रख सकते हैं।
3. अब एड़ियों को उठाकर शरीर का भार पंजों पर डालकर बैलेंस बनाएं।
4. पूरे शरीर को अच्छे से स्ट्रेच करें।
5. गहरी सांस लेते हुए कुछ देर इसी अवस्था में रहिए।
6. बाद में सामान्य मुद्रा में आ जाएं। हाथों को ढीला ना छोड़ें।
7. इस आसन को दोबारा रिपीट करें।
8. तीसरी बार एड़ियों को ना उठाकर सिर्फ स्ट्रेस करें। इससे ताड़ासन का एक राउंड पूरा होगा।
10 मिनट तक करें योगासन

इस आसन को करने में शुरुआत में परेशानी हो सकती है। मगर धीरे-धीरे प्रैक्टिस हो जाएगी। ऐसे में शुरु-शुरु में इस आसन को 4-5 बार यानि 10 मिनट तक रिपीट करें। बाद में आप चाहे तो इसकी गिनती बढ़ा भी सकते हैं।

ताड़ासन करने के फायदे...

1. इससे सुबह के समय शरीर में अकड़न व जकड़न की समस्या दूर होगी।
2. रीढ़ की हड्डी में खिंचाव होने के साथ सीधे होने में मदद मिलेगी।
3. शरीर में दर्द की समस्या से आराम मिलता है।
4. पाचन शक्ति बढ़ने के साथ पेट से जुड़ी परेशानियों से राहत मिलती है।
5. जिन बच्चों को हाइट ना बढ़ने की परेशानी है, उन्हें इस आसन से लाभ मिलेगा।
6. शरीर में खून का प्रवाह बेहतर होने से बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कम रहता है।
7. इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलेगी।
8. शरीर में भारीपन की परेशानी दूर होकर दिनभर हल्का व तरोताजा महसूस होगा।
9. शरीर की एक्सरट्रा चर्बी कम होकर वजन कंट्रोल में रहेगा। 

इन बातों का रखें खास ध्यान...

. अगर किसी के पैर, घुटने या टखनों पर कोई चोट लगती है या दर्द हो तो वे लोग इस आसन को करने से बचें।
. इस आसन को खाने के करीब 2-3 घंटों बाद ही करें।
. जो लोग हाई ब्लड प्रेशर के मरीज है। उन्हें इस आसन को डॉक्टर की सलाह के बगैर नहीं करना चाहिए।
. गर्भावस्था के शुरुआती समय में इस आसन को एड़ियां उठाकर कर सकते हैं। मगर बाद पैरों को जमीन पर रख कर ही करें। ताकि गिरने का कोई खतरा ना हो।

No comments