Breaking News

पुतिन ने माइनस 14 डिग्री तापमान के बर्फ़ीले पानी में क्यों लगाई डुबकी?

ये भी पढ़े :  कोरोना से जंग में भारत को बड़ी कामयाबी, देश में एक साथ दो-दो वैक्सीन को मंजूरी  2. UP वालों के लिए गुड न्यूज़, बिजली विभाग में बंपर नौकरी, ये है अंतिम डेट  3. रोज सुबह करें इस मंत्र का जाप, मिलेगी बड़ी कामयाबी और पैसा  4. वजन कम करने और आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए कारगर दवा है अरबी के पत्ते  5.  मंडी: युवक PGI में लड़ रहा है जिंदगी की जंग, बेटी की शादी के पैसे हो गए ख़र्च-परिवार लाचार

68 साल के रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को माइनस 14 डिग्री तापमान में राजधानी मॉस्को के पास एक क्रॉस-शेप्ड पुल में नंगे बदन डुबकी लगाई.

बर्फ़ीले पानी में पुतिन की डुबकी लगाती तस्वीर राष्ट्रपति के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से पोस्ट की गई है. पुतिन पुल तक शीपस्किन ओवरकोट में आते हैं लेकिन डुबकी लगाते हुए वो केवल अंडरवियर में हो जाते हैं.

रूस में टीवी पर इसका वीडियो भी दिखाया गया. पुतिन ने इस बर्फ़ीले पानी वाले पुल में तीन बार डुबकी लगाई. इस पुल के चारों तरफ़ बर्फ़ जमी है.

दरअसल, पुतिन एक धर्मनिष्ठ ईसाई के अनुष्ठान का पालन कर रहे थे. इस दिन को फीस्ट डे या इपिफ़नी कहा जाता है. हर साल एपिफ़नी के दिन धर्मनिष्ठ ईसाई नदी और झील में डुबकी लगाकर ईसा मसीह को याद करते हैं.

इस डुबकी को बहुत पवित्र माना जाता है. पुतिन कम्युनिस्ट शासन में पले-बढ़े हैं लेकिन राष्ट्रपति के तौर पर वो एक धर्मनिष्ठ ईसाई के रूप में रहे हैं.

No comments