Breaking News

पीलिया एक जानलेवा बीमारी है, अगर किसी को हो तो करें इन 2 चीजों का सेवन

पीलिया एक जानलेवा बीमारी है, अगर किसी को हो तो करें इन 2 चीजों का सेवन

क्तरस में पित्तरंजक (Billrubin) नामक एक रंग होता है, जिसके आधिक्य से त्वचा और श्लेष्मिक कला में पीला रंग आ जाता है। इस दशा को कामला या पीलिया (Jaundice) कहते हैं।सामान्यत: रक्तरस में पित्तरंजक का स्तर 1.0 प्रतिशत या इससे कम होता है, किंतु जब इसकी मात्रा 2.5 प्रतिशत से ऊपर हो जाती है तब कामला के लक्षण प्रकट होते हैं। कामला स्वयं कोई रोगविशेष नहीं है, बल्कि कई रोगों में पाया जानेवाला एक लक्षण है। यह लक्षण नन्हें-नन्हें बच्चों से लेकर 80 साल तक के बूढ़ों में उत्पन्न हो सकता है। यदि पित्तरंजक की विभिन्न उपापचयिक प्रक्रियाओं में से किसी में भी कोई दोष उत्पन्न हो जाता है तो पित्तरंजक की अधिकता हो जाती है, जो कामला के कारण होती है।
आप सभी को "पीलिया एक जानलेवा बीमारी है, तो करें इन 2 चीजो का सेवन" के बारे में बताने जा रहा हूँ, चलिए जानते हैं इसके बारे में।

दोस्तों अजकलोगों को जिस वजह से कई बिमारियों का शिकार होना पड़ता हैं। इन्हीं बिमारियों में से एक हैं "पीलिया" जो की वायरस की वजह से होता हैं। इस बिमारी में लक्षण के तौर पर आँखों, नाखूनों, पेशाब आदि का रंग पीला होने लगता हैं। इसकी वजह से बुखार रहना, भूख न लगना, जी मिचलाना और कभी-कभी उल्टी होना, सिर में दर्द होना आदि कई परेशानी होने लगती हैं।

करें पीपल का पत्ता का उपयोग
दोस्तों पीपल का उपयोग कई बीमारियों के इलाज में किया जा सकता है। पीपल में ग्लूकोज, एस्टेरियोड और मेनोस, फेनोलिक, विटामिन के, टैनिन और फेटोस्टेरोलिन जैसे गुण पाए जाते हैं। पीलिया जैसी गंभीर बीमारी में भी पीपल आपके काम आ सकता है। पीपल के कोमल पत्तों का रस निकालकर उसमें मिश्री मिलाकर सेवन करने से पीलिया जल्दी ही खत्म हो जाएगा।

मुलेठी का उपयोग
दोस्तो मुलेठी में कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, एंटीऑक्सीडेंट्स, एंटीबायोटिक, प्रोटीन, फैट, विटामिन बी, विटामिन ई, पोटैशियम, सेलेनियम, सिलिकॉन जैसे जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। मुलेठी कई रोगों के इलाज में उपयोग किया जाता है। पीलिया रोग में 1 चम्मच मुलेठी का चूर्ण शहद के साथ मिलाकर या इसका काढ़ा पीने से पीलिया रोग में लाभ होता है। 2 से 5 ग्राम मुलहठी का चूर्ण पानी और मिश्री के साथ सेवन करने से पेट मे गैस कम हो जाती। इसके सेवन से बहुत अच्छे फायदे मिलते होते हैं।

No comments