Breaking News

भारत के 300वें टेस्ट खिलाड़ी बने गेंदबाज ने बिना मैच खेले ही रच दिया इतिहास

भारत के 300वें टेस्ट खिलाड़ी बने गेंदबाज ने बिना मैच खेले ही रच दिया इतिहास

भारतीय क्रिकेट टीम के दो खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन टेस्ट में दो खिलाड़ियों को डेब्यू करने का मौका मिला। वॉशिंग्टन सुंदर और टी नटराजन इस दौरे पर टेस्ट डेब्यू करने वाले भारतीय खिलाड़ी बने। इसमें से तेज गेंदबाज नटराजन के लिए तो यह डेब्यू ऐतिहासिक रहा।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में चोटिल खिलाड़ियों की समस्या से जूझ रहे भारत ने आखिरी मैच में चार अहम बदलाव किए हैं। चोट की वजह से आर अश्विन, रवींद्र जडेजा, हनुमा विहारी और जसप्रीत बुमराह टीम में नहीं हैं। मयंक अग्रवाल और शार्दुल ठाकुर की वापसी हुई है जबकि टी नटराजन और वॉशिंग्टन सुंदर को डेब्यू करने का मौका मिला है।

नटराजन ने टेस्ट डेब्यू के साथ रचा इतिहास

ऑस्ट्रेलिया के इस दौरे पर भारतीय तेज गेंदबाज टी नटराजन को तीनों ही फॉ़र्मेट में भारत की तरफ से डेब्यू करने का मौका मिला। पहले वनडे फिर टी20 और अब उनको टेस्ट सीरीज में खेलने का मौका मिला है। कमाल की बात यह है कि वह तीनों में से किसी भी फॉर्मेट में टीम में इस दौरे के लिए नहीं चुने गए थे। दूसरे खिलाड़ियों के चोटिल होने की वजह से उनको यह मौका मिला। नटराजन एक ही दौरे पर तीनों फॉर्मेट में डेब्यू करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने हैं। इससे पहले किसी भी भारतीय को ऐसा मौका नहीं मिला था।

नटराजन के साथ सुंदर का भी टेस्ट डेब्यू

आर अश्विन के चोटिल होने की वजह से ऑलराउंडर वॉशिंग्टन सुंदर को भी टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिला। सुंदर को अश्विन ने टेस्ट कैप दिया जबकि नटराजन को उनका टेस्ट कैप गेंदबाजी कोच भरत अरुण के हाथों मिला। भारत की तरफ से टेस्ट खेलने वाले नटराजन 300वें जबकि सुंदर 301वें खिलाड़ी बने।

भारत का प्लेइंग इेलवन

रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (कप्तान), मयंक अग्रवाल, रिषभ पंत (विकेटकीपर), वॉशिंग्टन सुंदर, शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज और टी नटराजन

No comments