Breaking News

उत्तराखंड: पिता फेक्ट्री कर्मी और बेटी मेघा नेगी कड़ी मेहनत से बनी वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर

उत्तराखंड: पिता फेक्ट्री कर्मी और बेटी मेघा नेगी कड़ी मेहनत से बनी वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर

किसी मुकाम को पाने की जिद और लगन ही इंसान को सफलता की ओर ले जाती है। इसकी मिशाल एमबीपीजी कालेज की छात्रा मेघा नेगी ने भी पेश की है। प्राइवेट फैक्ट्री कर्मी की बेटी मेघा ने आल इंडिया लेवल का एएफसीएटी (एयर फोर्स कामन एडमिशन टेस्ट) उत्तीर्ण किया है। जिसके चलते उनका चयन भारतीय वायु सेना में फ्लाइंग अफसर के पद पर हुआ है।

रानीबाग निवासी मेघा नेगी बचपन से पढ़ाई में तेज रही हैं। उनके पिता जीवन सिंह नेगी हल्दूचौड़ में स्थित एक फैक्ट्री में काम करते हैं और माता कला नेगी गृहिणी हैं। मेघा नेगी वायुसेना में भर्ती होकर देश के लिए कुछ करना चाहती थीं, बस इसी सपने को साकार करने के लिए उन्होंने इंटरमीडिएट करने के बाद बीएससी की पढ़ाई के साथ-साथ वायुसेना में भर्ती होने की तैयारी शुरू कर दी। मेघा ने एमबीपीजी कॉलेज में वर्ष 2017 में बीएससी में दाखिला लिया और कॉलेज में संचालित एनसीसी एयरविंग में शामिल हो गईं। मेघा एनसीसी के लिए सिंगापुर में कैंप करने जा चुकी हैं।

मेघा ने बताया कि उन्होंने फरवरी 2020 में आयोजित एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट (एएफसीएटी) दिया था। जिसे उन्होंने उत्तीर्ण किया और 13 सितंबर से छह दिनों तक देहरादून में चली साक्षात्कार प्रक्रिया में भाग लिया। इसमें चयन होने के बाद मेडिकल परीक्षा उत्तीर्ण की और मेरिट सूचि में अपना नाम दर्ज कराया। मेघा ने बताया कि भर्ती परीक्षा का परिणाम 31 दिसंबर 2020 को ही आया। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण हैदराबाद वायुसेना अकादमी में जनवरी 2021 से शुरू होना है। इधर, शुक्रवार को कॉलेज में प्राचार्य डॉ. बीआर पंत, चीफ प्रॉक्टर डॉ. विनय विद्यालंकार, डॉ. हेमंत कुमार शुक्ला, एनसीसी एयरविंग इकाई के एएनओ डॉ. अमित कुमार सचदेव आदि ने मेघा को बधाई दी।

No comments