Breaking News

पॉन्टिंग बोले-सीरीज ड्रॉ हुई तो ये ऑस्ट्रेलिया के लिए हार से भी बुरा नतीजा होगा

पॉन्टिंग बोले-सीरीज ड्रॉ हुई तो ये ऑस्ट्रेलिया के लिए हार से भी बुरा नतीजा होगा

जो रिकी पॉन्टिंग टेस्ट सीरीज शुरू होने से पहले ऑस्ट्रेलिया की जीत के 4-0 के दावे कर रहे थे. जो रिकी पॉन्टिंग (Ricky Ponting) सिडनी टेस्ट में टीम इंडिया के 200 रनों से पहले सिमटने की बातें कर रहे थे अब वही पॉन्टिंग बेहद टेंशन में हैं. पॉन्टिंग ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को चेताया है कि अगर टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन टेस्ट ड्रॉ करा लिया तो ये मेजबान टीम के लिए हार से भी बुरा परिणाम होगा. उन्होंने कहा, 'कई खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के वर्तमान दौरे में अपना जुझारूपन और जज्बा दिखाया है. 

चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में भारत अपने प्रमुख तेज गेंदबाजों, कप्तान विराट कोहली और कुछ विशेषज्ञ बल्लेबाजों के बिना खेल रहा है.'

पॉन्टिंग ने क्रिकेट.काम.एयू से कहा, 'मुझे लगता है कि श्रृंखला का ड्रॉ होना दो साल पहले मिली हार से भी बुरा होगा. ' उन्होंने कहा, 'मैं इसको इसी नजरिये से देखता हूं यह जानते हुए कि भारत को श्रृंखला में 20 खिलाड़ियों में से भी अंतिम एकादश चुनने में कितनी परेशानी हुई. दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलियाई टीम में डेविड वॉर्नर की अंतिम दो मैच में और स्टीव स्मिथ की वापसी हुई जबकि पिछली बार वे टीम में नहीं थे.' पॉन्टिंग ने कहा, 'श्रृंखला में बराबरी न केवल हार जैसी होगी बल्कि यह पिछली श्रृंखला से भी बुरा परिणाम होगा.'

जीत के लिए हर कोशिश करे ऑस्ट्रेलिया-पॉन्टिंग सीरीज अभी 1-1 से बराबरी पर है. भारत को गाबा में पांचवें और अंतिम दिन जीत के लिए 324 रन बनाने हैं और उसके दस विकेट बचे हुए है. अगर सीरीज बराबर रहती है तो बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी भारत के पास ही रहेगी. पॉन्टिंग (Ricky Ponting) ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए हर संभव कोशिश करनी चाहिए क्योंकि भारत का जुझारूपन निरंतर नहीं बना रहेगा. उन्होंने कहा, 'किसी मौके पर भारत का जुझारूपन कमजोर पड़ेगा. वे जैसा कर रहे हैं वैसा करना जारी नहीं रख सकते हैं और मुझे लगता है कि कल ऐसा हो सकता है. श्रृंखला के आखिरी दिन ड्रॉ के लिए खेलते हुए वे कुछ गलतियां करेंगे. दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया जानता है कि उसे श्रृंखला जीतने के लिए अपना सब कुछ झोंक देना होगा.'

टीम इंडिया ड्रॉ नहीं जीत के लिए खेलेगी-सिराज रिकी पॉन्टिंग सोच रहे हैं कि टीम इंडिया ब्रिस्बेन टेस्ट को ड्रॉ कराने के लिए खेलेगी लेकिन मोहम्मद सिराज ने चौथे दिन के खेल के बाद बताया कि टीम पांचवें दिन जीत के बारे में सोच रही है. वैसे आपको बता दें ब्रिस्बेन में चौथी पारी में कभी 300 से ज्यादा का लक्ष्य हासिल नहीं किया जा सका है. गाबा की विकेट को देखते हुए 328 का लक्ष्य बेहद मुश्किल है. गाबा पर चौथी पारी में सर्वोच्च लक्ष्य का पीछा करके जीत 1951 में वेस्टइंडीज ने हासिल की है जब उसने 236 रन बनाये थे.

No comments