Breaking News

बेटे के इलाज के लिए छोड़ दिया इंडियन आइडल का मंच, दर्दभरी है फरमानी की कहानी

बेटे के इलाज के लिए छोड़ दिया इंडियन आइडल का मंच, दर्दभरी है फरमानी की कहानी

सोशल मीडिया पर अपनी आवाज का जादू चलाकर इंडियन आइडल के मंच तक पहुंचीं मुजफ्फरनगर की फरमानी ने ममता के सामने सपनों को तरजीह नहीं दी. फरमानी का कहना है कि बेटे का ऑपरेशन कराने के लिए उन्होंने इंडियन आइडल का मंच छोड़ दिया. शो को बीच में छोड़ कर लौटी फरमानी अब मेरठ के एक निजी अस्पताल में अपने बेटे के ऑपरेशन के बाद काफी खुश हैं. 

देश की जनता से मिले अपार वोटों से उत्साहित फरमानी अब गायकी में और आगे बढ़ने की हसरत रखती हैं. मुजफ्फरनगर के मोहम्मदपुर लौहड्डा निवासी मौहम्मद आरिफ के पांच बच्चे हैं, जिनमें से एक फरमानी भी है. फ़रमानी की शादी पिता आरिफ ने लगभग तीन साल पहले मेरठ जनपद के छोटा हसनपुर गांव निवासी एक युवक के साथ शादी की थी.

बेटे की वजह से छोड़ना पड़ा था ससुराल: दो साल पहले फरमानी ने एक बच्चे को जन्म दिया. मगर जन्म से ही बच्चे के हलक में छेद होने के कारण फरमानी के ससुराल वालों ने इस बच्चे को अपनाने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद फरमानी अपने बच्चे के साथ अपने मायके वापस लौट गई थी. यहीं से फरमानी की गायकी का दूसरा दौर शुरू हुआ.

ऐसा सोशल मीडिया पर फेमस हुईं फरमानी: गांव में वीडियो बनाने आने वाले आशू बच्चन और राहुल नाम के युवक ने फरमानी के गाने का वीडियो यूट्यूब पर अपलोड किया, जिसके बाद वीडियो को मिले धड़ाधड़ लाइक से फरमानी सोशल मीडिया का एक चर्चित चेहरा बन गईं. सोशल मीडिया पर छाई फरमानी की आवाज को सुनकर देश के मशहूर सिंगिंग शो इंडियन आइडल के आयोजकों ने भी फरमानी और उनके भाई फरमान को गाने के लिए इंडियन आइडल के मंच पर बुलाया था.

ऑडिशन में सिलेक्ट होने के बाद फरमानी मुंबई में ही थीं. मगर फरमानी का कहना है कि इसी दौरान मेरठ में उनके बेटे के ऑपरेशन के तारीख नजदीक आ गई, जिसके बाद फरमानी इंडियन आइडल का शो बीच में ही छोड़ कर अपने घर वापस लौट आईं. फिलहाल मेरठ के एक निजी हॉस्पिटल में फरमानी के बेटे का ऑपरेशन हो चुका है. अपने लाखों चाहने वालों का धन्यवाद देते हुए फरमानी ने अब आगे गायकी के दौर को जारी रखने की बात कही है.

No comments