Breaking News

उत्तराखंड त्रासदी: हिमाचल के जीत बहादुर सहित तीन दर्जन लोग सुरंग में कैद

उत्तराखंड त्रासदी: हिमाचल के जीत बहादुर सहित तीन दर्जन लोग सुरंग में कैद




जिसमें प्रदेश के जिला सिरमौर के माजरा गांव निवासी जीत बहादुर अपने साथियों सहित सुरंग में फंसे हैं। बताया जा रहा है कि जीत बहादुर एनटीपीसी के साथ कार्य कर रही ऋषित कंस्ट्रक्शन कंपनी में डीजीएम पद पर कार्यरत है। उनके साथ करीब कंपनी के 35 व्यक्ति सुरंग के अंदर बताए जा रहे हैं।

आज सुबह करीब 10:30 बजे के आसपास वह एनटीपीसी की एक टीम को सुरंग के अंदर सर्वे कराने लेकर गए थे। जोशीमठ के तपोवन में इनकी कंपनी डैम बनाने का कार्य कर रही है। जीत बहादुर अपनी टीम के साथ सुरंग में करीब ढाई सौ मीटर अंदर थे, तभी जल प्रलय करीब 11:30 बजे के आसपास आ गई।

बताया जा रहा हैं कि डीजीएम जीत बहादुर अपनी टीम के साथ अभी भी सुरंग के अंदर फंसे हुए हैं। हालांकि उन्हें रेस्क्यू किया जाना है। टनल का एक बड़ा हिस्सा मलबे से पूरी तरह बंद है। एनडीआरएफ की टीम व सेना के जवान मौके पर रेस्क्यू में लगे हुए हैं।

उम्मीद की जा रही है कि करीब रात के 12:00 12:30 बजे के आस पास रेस्क्यू टीम सुरंग में फंसे हुए लोगों तक पहुंच सकती है।

बता दें कि जीत बहादुर की दो बेटियां नाहन के साईं मल्टी स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल में जॉब करती हैं। जबकि उनके परिवार के कुछ सदस्य गिरी नगर में भी रहते हैं। जीत बहादुर के माता पिता हिमाचल प्रदेश इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड में कार्य करते थे। जीत बहादुर के पिता की भी किन्नौर के संजय विद्युत परियोजना में 80 के दशक में एक दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी।

मौजूदा समय जीत बहादुर अपनी पत्नी व बच्चों सहित उत्तराखंड में रह रहे हैं।

उधर कंपनी के अधिकारी राकेश डिमरी ने बताया कि जीत बहादुर अपनी गाड़ी के साथ सुरंग के काफी अंदर हैं। अंदर ऑक्सीजन की भी व्यवस्था रहती है। क्योंकि अब काफी देर हो रही है लिहाजा रेस्क्यू मे तेजी लाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

No comments