Breaking News

नींद को नहीं करें नज़रअंदाज, स्वस्थ रहने के लिए 8 घंटे की नींद जरूरी

नींद को नहीं करें नज़रअंदाज, स्वस्थ रहने के लिए 8 घंटे की नींद जरूरी

नींद हर व्यक्ति के जीवन का अहम हिस्सा है। यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमारे स्वास्थ्य से जुड़ा है। अक्सर काम की वजह से और बदलती जीवनशैली के कारण लोग नींद से समझौता कर लेते हैं। भागदौड़ भरी जिन्दगीं में लोगों का नींद को नजरअंदाज करना स्वभाव सा बन गया है। यह मानव शरीर को लगातार थका हुआ बनाने का सबसे बड़ा कारण बनते जा रहा है, जिसकी वजह से शरीर की उत्पादकता लगातार घटती जा रही है। आज वर्ल्ड स्लीप डे है। जानिए नींद से समझौता करने पर आप कितनी बड़ी भूल कर रहे हैं।

काम करने के साथ-साथ दिमागी तौर पर अच्छा महसूस करने की क्षमता हमारे जागने के दौरान इस बात पर निर्भर करती है कि शरीर को पर्याप्त नींद मिल रहा है या नहीं। स्पष्ट तौर पर यह बात इस पर निर्भर करती है के आप उस समय ही सो रहे हैं जब आपका शरीर सोने के लिए तैयार है।

सबसे बड़ी बात यह है कि सभी आयु वर्ग के लोगों, खासकर युवाओं में पर्याप्त नींद न लेने की अक्सर शिकायत रहती है। नींद की कमी लोगों के काम करने की क्षमता को गहरे तौर पर बाधा पहुंचाती है। वहीं कम नींद का हाई ब्लड प्रेशर, ह्दय रोग, मधुमेह जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं से इसका सीधा संबंध है। इससे साफ जाहिर है कि क्या अपनी नींद के साथ समझौता करना सही है या नहीं ?

ऐसी कई वजहें हैं जो कम या अपर्याप्त नींद का कारण बनती हैं। इसमें सबसे बड़ी वजह है आपके सोने के सरफेस का चुनाव। सोने के लिए सही मैट्रैस्स का इस्तेमाल बेहद जरूरी होता हैं। एक अध्ययन के अनुसार मानव रात में लगभग 30 बार करवट बदलता है, जिसके कारण उत्पन्न होने वाले प्रेशर पॉइंट आपकी नींद पर असर डालते हैं। इससे शरीर के रक्त प्रवाह पर असर पड़ता है। साथ ही साथ रात में अच्छी नींद के लिए अच्छे फैब्रिक के बने गद्दों का प्रयोग करें। ये शरीर के मांसपेशियों के लिए आरामदायक होते हैं

नींद की कमी के और भी कारण हैं, जिनपर आमतौर पर हमारा ध्यान नहीं जाता है। जबकि इन चीजों को हम आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं। जैसे- रात में तेज रोशनी के संर्पक में आने से बचें, रात के खाने में हल्का भोजन करे, हल्के गर्म पानी से स्नान करें,कमरे में हल्की रोशनी रखें और रोजाना कम से कम 30 मिनट व्यायाम की आदत डालें।

डॉक्टरों का कहना है कि यदि स्वस्थ जीवन बिताना है तो प्रतिदिन 8 घंटे की नींद जरूरी है।

No comments