Breaking News

मास्क नहीं पहनने पर पिता को पुलिस ने गिरा-गिरा कर मारा, बिलखता बेटा मांगता रहा रहम की भीख

कोरोना वायरस से बचाव के लिए कथित तौर पर मास्क नहीं लगाने को लेकर विवाद के बाद यहां परदेशीपुरा क्षेत्र में 35 वर्षीय व्यक्ति को दो पुलिस आरक्षक ने मंगलवार को सड़क पर गिराकर बुरी तरह पीटा. घटना का वीडियो वायरल होने पर दोनों पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.   वीडियो में दो पुलिस कर्मी एक व्यक्ति को बुरी तरह पीटते दिखाई दे रहे हैं, जबकि उसका किशोर बेटा और कुछ महिलाएं पुलिसकर्मियों से रहम की भीख मांगती नजर आ रही हैं. पुलिस अधीक्षक (पूर्वी क्षेत्र) आशुतोष बागरी ने बताया कि वीडियो में दिखाई दे रहे दोनों आरक्षकों को अनुचित बर्ताव के चलते निलंबित कर दिया गया है और एक शहर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) को मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया है.   काट-छांट कर तैयार किया गया है वीडियो- बागरी   बागरी ने दावा किया कि वीडियो में दिखाई दे रहे व्यक्ति ने मास्क नहीं पहन रखा था और दोनों पुलिसकर्मियों ने उसे रोका, तो उसने पुलिसकर्मियों से हुज्जत करते हुए उनका कॉलर पकड़ा व उनके साथ गाली-गलौच की और मारपीट की कोशिश की.       उन्होंने कहा, "घटना का जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वह काट-छांट कर तैयार किया गया है ताकि पुलिस की छवि खराब की जा सके." पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि जिस व्यक्ति ने पुलिसकर्मियों से कथित विवाद किया, उसकी पहचान कृष्णकांत कुंजीर (35) के रूप में हुई है. पुलिस अधिकारी के मुताबिक कुंजीर स्मैक का आदी है और उसके खिलाफ चाकूबाजी तथा जबरिया उगाही के मामले भी दर्ज हैं.   विपक्षी कांग्रेस ने साधा बीजेपी पर निशाना   इस बीच, वायरल वीडियो के हवाले से सोशल मीडिया पर लोग पुलिस के रवैये की तीखी आलोचना कर रहे हैं. विपक्षी कांग्रेस के कई नेताओं ने भी इस मामले में राज्य की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

कोरोना वायरस से बचाव के लिए कथित तौर पर मास्क नहीं लगाने को लेकर विवाद के बाद यहां परदेशीपुरा क्षेत्र में 35 वर्षीय व्यक्ति को दो पुलिस आरक्षक ने मंगलवार को सड़क पर गिराकर बुरी तरह पीटा. घटना का वीडियो वायरल होने पर दोनों पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है.

वीडियो में दो पुलिस कर्मी एक व्यक्ति को बुरी तरह पीटते दिखाई दे रहे हैं, जबकि उसका किशोर बेटा और कुछ महिलाएं पुलिसकर्मियों से रहम की भीख मांगती नजर आ रही हैं. पुलिस अधीक्षक (पूर्वी क्षेत्र) आशुतोष बागरी ने बताया कि वीडियो में दिखाई दे रहे दोनों आरक्षकों को अनुचित बर्ताव के चलते निलंबित कर दिया गया है और एक शहर पुलिस अधीक्षक (सीएसपी) को मामले की जांच का जिम्मा सौंपा गया है.

ये भी पढ़े : Post office की इस स्कीम में पैसा करें दोगुना, मिलेंगे 2 लाख के 4 लाख रु

ये भी पढ़े :  IPL 2021 से पहले कैफ ने की भविष्यवाणी, बताया कौन सी टीम जीतेगी इस बार IPL का खिताब


काट-छांट कर तैयार किया गया है वीडियो- बागरी

बागरी ने दावा किया कि वीडियो में दिखाई दे रहे व्यक्ति ने मास्क नहीं पहन रखा था और दोनों पुलिसकर्मियों ने उसे रोका, तो उसने पुलिसकर्मियों से हुज्जत करते हुए उनका कॉलर पकड़ा व उनके साथ गाली-गलौच की और मारपीट की कोशिश की.

उन्होंने कहा, "घटना का जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वह काट-छांट कर तैयार किया गया है ताकि पुलिस की छवि खराब की जा सके." पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने बताया कि जिस व्यक्ति ने पुलिसकर्मियों से कथित विवाद किया, उसकी पहचान कृष्णकांत कुंजीर (35) के रूप में हुई है. पुलिस अधिकारी के मुताबिक कुंजीर स्मैक का आदी है और उसके खिलाफ चाकूबाजी तथा जबरिया उगाही के मामले भी दर्ज हैं.

विपक्षी कांग्रेस ने साधा बीजेपी पर निशाना

इस बीच, वायरल वीडियो के हवाले से सोशल मीडिया पर लोग पुलिस के रवैये की तीखी आलोचना कर रहे हैं. विपक्षी कांग्रेस के कई नेताओं ने भी इस मामले में राज्य की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है.

No comments