Breaking News

नक्सली हमले में हुए शहीद दो मासूम बेटियों के पिता धर्मदेव, फिर पेट से थी पत्नी

दो मासूम बेटियों के पिता थे धर्मदेव, प्रेग्नेंट थीं पत्नी, नक्सली हमले में हुए शहीद

पूर्वी उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के ठेकहां गांव के सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन में तैनात धर्मदेव कुमार छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हो गए. जिसकी सूचना के बाद जिले के डीएम संजीव सिंह और एसपी अमित कुमार शहीद परिजनों को दुख की इस घड़ी में सांत्वना देने शहीद के गांव पहुंचे हैं. चंदौली के चकिया तहसील के ठेकहां गांव के रहने वाले धर्म देव कुमार अपने तीन भाइयों में सबसे बड़े थे. इनके छोटे भाई धनंजय भी सीआरपीएफ में हैं. खास बात यह है कि दोनों भाई सन 2013 में एक साथ सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे और दोनों की पोस्टिंग भी छत्तीसगढ़ में ही थी. 

वर्तमान समय में धनंजय कुमार की पोस्टिंग मुठभेड़ वाली जगह से तकरीबन 200 किलोमीटर की दूरी पर बताई जाती है. धर्मदेव कुमार के सबसे छोटे भाई आनंद कुमार गांव में अपने माता पिता के साथ रहते हैं. धर्मदेव कुमार की 8 साल और 2 साल की दो बेटियां हैं और पत्नी मीना देवी एक बार फिर गर्भवती है. इस घटना के बाद पूरे गांव में मातम पसरा है और परिजन सरकार से इस बात की अपील कर रहे हैं कि सरकार इस शहादत का बदला ले.

No comments