Breaking News

IPL 2021: रोबिन उथप्पा वो खिलाड़ी जिसने गंभीर को चैंपियन बनाया अब धोनी के लिए 1000 रन बनाने को है तैयार!

IPL 2021: रोबिन उथप्पा वो खिलाड़ी जिसने गंभीर को चैंपियन बनाया अब धोनी के लिए 1000 रन बनाने को है तैयार!

रोबिन उथप्पा की पहचान IPL में एक ऐसे बल्लेबाज की है जो लगातार रन बनाता है और अकेले दम पर मैच जिताने की क्षमता रखता है. मुंबई इंडियंस, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए खेलते हुए उन्होंने यह साबित किया. गौतम गंभीर की कप्तानी में जब केकेआर ने 2014 में दूसरी बार आईपीएल खिताब जीता तब रोबिन उथप्पा (Robin Uthappa) का अहम योगदान था. उन्होंने 660 रन बनाए थे. अब वे महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) का हिस्सा है. इस टीम से जुड़कर रोबिन उथप्पा काफी खुश भी हैं. IPL 2021 शुरू होने से पहले ही वे एक सीजन में 1000 रन बनाने के इरादे भी जता चुके हैं. रोबिन उथप्पा टॉप ऑर्डर के ताबड़तोड़ बल्लेबाज हैं. उनके सामने गेंद डालना बड़े से बड़े गेंदबाज को मुश्किल में डाल देता है.

ये भी पढ़े : IPL 2021 से पहले जानिए कौन है हर टीम का 1 सबसे मजबूत और सबसे कमजोर खिलाड़ी


उन्होंने अभी तक आईपीएल के 13 सीजन में 189 मैच में 4607 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 130 के पास है. रोबिन उथप्पा ने आईपीएल में 24 अर्धशतक लगाए हैं. उन्होंने इस टूर्नामेंट में शुरुआत मुंबई इंडियंस के साथ की. पहले सीजन में यह टीम फिसड्डी रही लेकिन रोबिन का खेल टॉप क्लास रहा. उन्होंने 14 मैच में 320 रन बनाए. लेकिन जनवरी 2009 में मुंबई ने जहीर खान के बदले में उथप्पा को आरसीबी को दे दिया. आरसीबी के लिए पहला साल उनके लिए खराब रहा. वे 15 मैच में 175 रन बना सके. लेकिन आईपीएल 2010 में रोबिन ने फिर से जलवे बिखरे. उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ महज 21 गेंद में फिफ्टी ठोक दी. यह तब आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे तेजी फिफ्टी थी. आगे के मैचों में उनका ऐसा ही खेल दिखा. नतीजा यह हुआ कि उन्होंने 14 पारियों में 31.16 की औसत और 171 की स्ट्राइक रेट से 374 रन बनाए. उस सीजन में उथप्पा ने सबसे ज्यादा 27 छक्के लगाए.

केकेआर में आए और बन गए रन मशीन आईपीएल 2011 की नीलामी में पुणे वॉरियर्स ने रोबिन पर मोटा दांव लगाया और करीब 9.4 करोड़ रुपये में उन्हें अपने साथ लिया. इस नीलामी में वे गौतम गंभीर के बाद दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी रहे. पुणे के लिए यह सीजन बुरा रहा लेकिन रोबिन भी कुछ खास नहीं कर सके. लेकिन आईपीएल 2012 में उन्होंने पुणे के लिए सबसे ज्यादा 405 रन बनाए. फिर 2013 में भी उन्होंने इसी टीम के लिए 434 रन बनाए. आईपीएल 2014 के लिए वे केकेआर से जुड़ गए. यहां वे छह साल खेले. केकेआर के लिए पहले ही सीजन में उन्होंने 660 रन बनाए और ऑरेंज कैप जीती. साथ ही लगातार आठ मैचों में 40 से ज्यादा का स्कोर बनाया. हालांकि पूरे सीजन में वे 11 बार 40 रन के पार गए. इसके जरिए उन्होंने मैथ्यू हेडन का रिकॉर्ड तोड़ा.
केकेआर से राजस्थान के रास्ते चेन्नई पहुंचे

ये भी पढ़े : मोईन अली का बड़ा खुलासा, बताया क्यों MS धोनी की कप्तानी में खेलना चाहता है हर क्रिकेटर

रोबिन उथप्पा ने केकेआर के लिए छह सीजन में 2439 रन बनाए. आईपीएल 2019 में उनका प्रदर्शन हल्का रहा. यह पहला सीजन था जब रोबिन उथप्पा ने केकेआर के लिए एक सीजन में 350 से कम रन बनाए. ऐसे में केकेआर ने आईपीएल 2020 से पहले उन्हें रिलीज कर दिया. तब राजस्थान रॉयल्स ने उन्हें तीन करोड़ रुपये में खरीदा. वहां उन्होंने 12 मैच खेले लेकिन कुछ खास हुआ नहीं. ऐसे में आईपीएल 2021 से पहले चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें ट्रेड के जरिए अपने साथ ले लिया.

No comments