Breaking News

हिमाचल में बारिश का कहर: मनाली में बर्फबारी का 25 साल का रिकॉर्ड टूटा, 100 से अधिक सड़कें बंद, कई भवन ध्वस्त

manali fresh snow

हिमाचल प्रदेश में गुरुवार रात को भारी बारिश और बर्फबारी से काफी नुकसान हुआ है। मनाली में बर्फबारी का 25 साल का रिकॉर्ड टूटा है। 1996 के बाद पहली बार मनाली में अप्रैल माह में बर्फबारी हुई है। लाहौल समेत कुल्लू घाटी में बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के साथ कुल्लू में चार दिनों से मौसम का कहर जारी है। रोहतांग दर्रा के साथ अटल टनल रोहतांग तथा हाईवे 305 पर भारी बर्फबारी होने से जनजीवन पूरी तरह से ठप हो गया है।

road block

रोहतांग में 140, बारालाचा में 160, कुंजुम दर्रा में 100 सेंमी बर्फबारी रिकॉर्ड की गई है। भारी बर्फबारी ने बीआरओ की चिंता को बढ़ा दिया है।

लाहौल और कुल्लू में 100 से अधिक सड़कों पर यातायात अवरूद्ध हो गया है। सेब की फसल के लिए मौसम कहर बनकर बरसा है।

snow

जिला कुल्लू में सेब की बंपर फ्लावरिंग को बुरी तरह से तहस नहस कर दिया है।

खासकर जिला के ऊंचाई वाले इलाकों में सेब की 50 से 80 फीसदी फसल का नुकसान हुआ है।

कोरोना काल में सेब की अच्छी पैदावार की उम्मीदों पर बर्फबारी व कड़ाके की ठंड ने पानी फेर दिया है।

school

राजधानी शिमला के संजौली में एक पुराना बहुमंजिला भवन ढह गया। हालांकि भवन को पहले ही खाली करा लिया गया था जिससे कोई जानी नुकसान नहीं हुआ है।

ये भी पढ़े : Post office की इस स्कीम में पैसा करें दोगुना, मिलेंगे 2 लाख के 4 लाख रु

ये भी पढ़े :  IPL 2021 से पहले कैफ ने की भविष्यवाणी, बताया कौन सी टीम जीतेगी इस बार IPL का खिताब

ये भी पढ़े : LIC: एक बार पैसा लगाकर जिदंगीभर मिलती रहेगी 8000 पेंशन

ये भी पढ़े : सूरत के व्यापारी ने अपनी 2 माह की बेटी के लिए चांद पर खरीदी जमीन!

ये भी पढ़े :  LIC का नया प्लान: बेटी के लिए जमा करें केवल 150 रुपए, कन्यादान पर मिलेंगे 22 लाख रुपए

ये भी पढ़े : बेटी का सुहाग बचाने आगे आई मां, सास ने किडनी देकर दामाद को दिया नया जीवन


No comments