Breaking News

ना बैंड-बाजा, ना बाराती, 24 किमी साइकिल चलाकर अकेले ही शादी करने पहुंचा दूल्हा

corona marriage

कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते शादी समारोह पर खासा असर पड़ रहा है. कई लोगों की शादियां इस दौरान कैंसल हो रही हैं. इसी बीच एक मामला बांका में भी सामने आया. जहां एक शख्स शादी के लिए बगैर बैंड-बाजा और बाराती के अकेले ही साइकिल से अपनी दुल्हन के घर भागलपुर पहुंच गया. बांका के शंभूगंज प्रखंड में रहने वाले गौतम कुमार ने करीब 24 किलोमीटर साइकिल चलाकर भागलपुर के सुल्तानगंज ब्लॉक में कंचननगर गांव पहुंचा.

पिछले साल जनवरी में तय हुई थी शादी गौतम की शादी पिछले साल जनवरी में तय हुई थी लेकिन कोरोना महामारी की वजह से उस समय ये शादी टल गई, इस साल भी लगातार लॉकडाउन के चलते शादी की तारीख टल रही थी. उनके इस साहसिक कदम की तारीफ तो हो ही रही, ससुराल पक्ष के लोगों ने युवक का शानदार स्वागत किया. साथ ही शादी की रस्म भी पूरी की.

बीडीओ ने की तारीफ, इनाम भी दिया बीडीओ प्रभात रंजन ने कहा कि बांका जिला प्रशासन दुल्हन के लिए मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत इनाम की सिफारिश करेगा. उन्होंने बताया कि आवश्यक फॉर्म भरा जा रहा है. स्थानीय मुखिया की ओर से विवाह प्रमाण पत्र जारी करने के बाद इसे संबंधित अधिकारियों को भेजा जाएगा.

पिछले साल जनवरी में तय हुई थी शादी गौतम और कुमकुम की शादी पिछले साल जनवरी में होनी थी. हालांकि, कोविड संक्रमण के कारण इसमें देरी हुई और दोनों परिवारों ने इसे 2021 के लिए टाल दिया. इसके बाद इस बार भी महामारी के बढ़ते संक्रमण और लॉकडाउन से शादी की डेट टलती दिखाई दी. आखिरकार दूल्हे गौतम ने खास फैसले के तहत करीब 15 महीने तक इंतजार के बाद अकेले ही शादी में शामिल होने और सात फेरे का फैसला लिया. गौतम अपने घर पर परिजनों की इजाजत लेने के बाद साइकिल से कुमकुम के घर पहुंचे और अपनी दुल्हनिया संग शादी के बंधन में बंध गए.

ये भी पढ़े : आइए जानते हैं चंबा के जोत नामक स्थान के बारे में जो किसी जन्नत से कम नहीं

No comments