Breaking News

आठ साल की बच्ची की 28 साल के शख्स से शादी! जानें क्या है बिहार की 'बालिका वधु' की सच्चाई

आठ साल की बच्ची की 28 साल के शख्स से शादी! जानें क्या है बिहार की 'बालिका वधु' की सच्चाई

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर इनदिनों खूब वायरल हो रही है. तस्वीर में नविवाहित जोड़ा दिख रहा है. लेकिन विवाद दुल्हन की उम्र को लेकर है क्यूंकि दुल्हन के जोड़े में दिख रही युवती बच्ची जैसी दिख रही है. तस्वीर वायरल होने के बाद बवाल मच गया. लोग बिहार सरकार को बाल विवाह के मुद्दे पर घेरने लगे. वहीं, कुछ लोग सरकार से बच्ची को न्याय दिलाने की गुहार लगाने लगे. मामला प्रशानिक महकमे तक पहुंचा, जिसके बाद हड़कंप मच गया.

बालिग है लड़की

प्रशासनिक अधिकारियों ने पूरे मामले की जांच करने लिए टीम गठित कर दी. लेकिन जांच में जो बात सामने आई वो चौकाने वाली है. दरअसल, जमुई जिले के अकौनी गांव निवासी जिस लड़की की तस्वीर वायरल कर लोग सरकार पर सवाल उठा रहे थे, वो लकड़ी सरकारी दस्तावेजों के अनुसार बालिग है. उसकी उम्र 19 साल है. बीते 24 अप्रैल को उसकी शादी हुई है और वो पति के साथ अपने ससुराल में है

लड़की ने खुद बताई पूरी सच्चाई

बाल विवाह की चर्चाओं का खुद तनु कुमारी ने भी खंडन किया है. उसने कहा कि उसकी शादी उसकी और दोनों परिवारों की रजामंदी से हुई है. सोशल मीडिया पर चलाई जा रही खबर बिल्कुल गलत है. इसका खंडन किया जाए. इधर, इस मामले में प्रशासनिक स्तर से भी विज्ञप्ति जारी कर पूरी जानकारी दी गई है.

जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि 25 मई को सोशल मीडिया के माध्यम से तथाकथित बाल विवाह की जानकारी मिली थी. सूचना के आलोक में अनुमंडल पदाधिकारी, नवादा सदर और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, पकरीबरावां को संयुक्त रूप से खबर की सत्यापन के लिए वारिसलीगंज भेजा गया. इस दौरान गांव के लोगों ने बताया कि लड़की का नाम तनु कुमारी है जो अपने ननिहाल मतासी (अकौनी) प्रखण्ड सिकन्दरा, जिला जमुई में बचपन से रहती है.

ग्रामीणों के अनुसार लड़की की मां भी वहीं रहती है. लड़की का पिता दिल्ली में काम करते हैं. ऐसे में जमुई जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन को इस संबंध में सूचना दी गई, जिसके बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ. आधार कार्ड के अनुसार लड़की बालिग है. आधार कार्ड का सत्यापन किया जा चुका है. वायरल खबर पूरी तरह से निराधार है.

No comments