Breaking News

इस बैंक का बदल जाएगा IFSC कोड, एक जुलाई से नया करना होगा इस्तेमाल

ये भी पढ़े : आइए जानते हैं चंबा के जोत नामक स्थान के बारे में जो किसी जन्नत से कम नहीं  ये भी पढ़े : लाइलाज बीमारियों और कर्ज से भी मुक्ति दिलाता है भौम प्रदोष व्रत, जानें इसकी कथा  ये भी पढ़े : देश में खुशी की लहर, रोगियों की जान बचाने में बेहद कारगर मानी जा रही है यह दवा।  ये भी पढ़े : इस महीने खत्म होगी कोरोना की दूसरी लहर? वैज्ञानिकों ने बताया सही टाइम

कैनरा बैंक ने अपने ग्राहकों को सूचित किया है कि सिंडिकेट बैंक का IFSC एक 1 July 2021 से डिसेबल कर दिया जाएगा। Syndicate Bank ने ग्राहकों से कहां है कि उनके ब्रांच का IFSC 30 जून के बाद बदल जाएगा। बता दें सिंडिकेट बैंक का मर्जर कैनरा बैंक में हुआ है। कैनरा बैंक ने कहा है कि SYNB से स्टार्ट होने वाले सभी IFSC कोड एक जुलाई से काम नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें: घर बैठे बैंक से कैश मंगवाना अब और आसान, पीएनबी ने घटा दिया चार्ज

बैंक ने अपनी वेबसाइट पर उल्लेख किया है, “हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप प्रेषकों को एनईएफटी/आरटीजीएस/आईएमपीएस भेजते समय केवल CNRB से शुरू होने वाले अपने नए आईएफएससी कोड का इस्तेमाल करने के लिए सूचित करें।” बता दें 1 अप्रैल से ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, यूनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया, सिंडीकेट बैंक, आंध्रा बैंक, कार्पोरेशन बैंक और इलाहाबाद बैंक के आईएफएससी कोड बदल गए हैं। इन बैंकों के अकाउंट होल्डर अब नए आईएफसी कोड का इस्तेमाल कर रहे हैं।

IFSC कोड क्यों बदल रहे हैं?

बड़े पैमाने पर विलय योजना के हिस्से के रूप में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2019 में 10 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को चार बड़े बैंकों में विलय करने की घोषणा की थी। जबकि विलय अप्रैल 2020 में लागू हुआ, IFSC और MICR कोड वित्तीय वर्ष 2022 की शुरुआत से यानी 1 अप्रैल, 2021 से अपडेट हो रहे हैं।

IFSC कोड क्या है?

IFSC (The Indian Financial System Code) एक यूनिक 11-अंकीय अल्फ़ान्यूमेरिक कोड है, जिसका उपयोग NEFT, RTGS और IMPS के माध्यम से किए गए ऑनलाइन फंड ट्रांसफर लेनदेन के लिए किया जाता है।

ये भी पढ़े : आइए जानते हैं चंबा के जोत नामक स्थान के बारे में जो किसी जन्नत से कम नहीं

No comments