Breaking News

सरसों तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं, सरसों के भाव बढ़ने से अचानक आई तेल में तेजी

सरसों तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं, सरसों के भाव बढ़ने से अचानक आई तेल में तेजी




सरसों तेल की कीमतें आसमान छू रही हैं. हालांकि, पिछले दिनों भाव में कुछ कमी आई थी, लेकिन सरसों तेल फिर से महंगा होने लगा है. सरकार का दावा है कि तेल के भाव कम हो रहे हैं, लेकिन बाजारों में रेट पर इसका असर नहीं देखने को मिल रहा. विदेशी बाजारों में मंदी के रुख के बावजूद दिल्ली तेल तिलहन बाजार में सोमवार को सरसों, सोयाबीन तेल तिलहन तथा बिनौला तेल कीमतों में सुधार देखने को मिला है. वहीं, छिटपुट मांग से कच्चा पॉम तेल (सीपीओ) और पामोलीन के भाव पूर्ववत रहे. हालांकि, मांग कमजोर रहने से मूंगफली तेल तिलहन कीमतें गिरावट के साथ बंद हुई.

बाजार सूत्रों ने बताया कि विदेशी बाजारों में कमजोरी के रुख के बावजूद सोयाबीन तेल तिलहन कीमतों में सुधार रहा. उन्होंने बताया कि मलेशिया में एक प्रतिशत और शिकागो एक्सचेंज में 1.5 प्रतिशत की गिरावट रही. बेपड़ता कारोबार के कारण सोयाबीन के भाव में सुधार देखने को मिला.

200 रुपये बढ़ गए सरसों के भाव: उन्होंने कहा कि दूसरी ओर, आगरा के सलोनी और राजस्थान के कोटा में सरसों दाना के भाव 7,400 रुपये क्विन्टल से बढ़कर 7,600 रुपये क्विंटल हो गए. इस तेजी की वजह से सरसों तेल तिलहन कीमतों में सुधार हुआ.

खाद्य नियामक, FSSAI ने आठ जून से सरसों में किसी भी अन्य सस्ते तेल की मिलावट रोकने का आदेश दे रखा है. खाद्य नियामक द्वारा मिलावट की जांच करने के लिए पूरे देश में नमूने एकत्र करने का अभियान चलाया जा रहा है.

सरसों तेल के दाम भी बढ़े सरसों तेल के दाम में एक बार फिर से बढ़ोतरी देखने को मिली है. सरसों पक्की घानी का रेट 15 रुपये बढ़कर 2,290 -2,340 रुपये प्रति टिन हो गया. वहीं, सरसों कच्ची घानी के दाम भी 15 रुपये प्रति टिन बढ़कर 2,390 – 2,490 रुपये हो गए. सरसों दाना के भाव में भी इजाफा हुआ है और रेट 100 रुपये प्रति क्विंटल बढ़कर 7,225 – 7,275 रुपये हो गए हैं.

बाजार में थोक भाव इस प्रकार रहे- (भाव- रुपये प्रति क्विंटल)
सरसों तिलहन – 7,225 – 7,275 (42 प्रतिशत कंडीशन का भाव)
सरसों तेल दादरी- 14,200 रुपये प्रति क्विंटल.
सरसों पक्की घानी- 2,290 -2,340 रुपये प्रति टिन.
सरसों कच्ची घानी- 2,390 – 2,490 रुपये प्रति टिन.

No comments