Breaking News

आज अंतिम सफर पर निकलेंगे राजा वीरभद्र सिंह

आज अंतिम सफर पर निकलेंगे राजा वीरभद्र सिंह

वीरभद्र सिंह 10 जुलाई को दोपहर बाद 3 बजे अपने अंतिम सफर पर निकलेंगे। इससे पहले शुक्रवार को शिमला स्थित निजी आवास होलीलॉज से उनके पार्थिव शरीर को रामपुर स्थित पद्म पैलेस पहुंचाया गया, जहां पर उनके अंतिम दर्शन करने के लिए बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी। अब शनिवार सुबह 9 बजे के बाद विक्रमादित्य सिंह का राजा के रूप में राजतिलक किया जाएगा। जिस समय राजतिलक की रस्म को संपूर्ण विधि-विधान के साथ निभाया जाएगा, उस समय वीरभद्र सिंह की पार्थिव देह सामने रहेगी। इसके लिए पद्म पैलेस में विशेष साफ-सफाई की गई है। राजतिलक की रस्म में बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों के शामिल होने की संभावना है।


यातायात व्यवस्था सुचारू रखने के लिए 150 पुलिस जवान तैनात पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अंतिम यात्रा के दौरान यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए 150 पुलिस जवानों की तैनाती की गई है। इस दौरान विशेष ट्रैफिक प्लान तैयार किया गया है, जिसके अनुसार किन्नौर व रामपुर की तरफ से आने वाले वाहनों को बजीर-बावड़ी से झाखड़ी की तरफ भेजा जाएगा। इस दौरान ज्यूरी से आने वाले वाहनों के लिए अलग से व्यवस्था की गई है। डीएसपी रामपुर चंद्रशेखर कायथ के अनुसार वाहनों की आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए 24 घंटे वैकल्पिक मार्ग की व्यवस्था रहेगी। अंतिम यात्रा में लोगों को परेशानी से बचाने के लिए अलग से पुलिस जवानों को तैनात किया गया है।


अंतिम यात्रा के लिए ये रहेगी योजना पद्म पैलेस से जोगड़ी बाग रामपुर के लिए दोहपर बाद 3 बजे अंतिम यात्रा निकलेगी। अंतिम यात्रा पद्म पैलेस से लोकल बस स्टैंड व पुलिस थाना के होकर रामपुर बाजार से निकलेगी। इस तरह करीब 1 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। रास्ते में लोगों को बिठाने व पीने के लिए पानी की व्यवस्था भी रहेगी। इस दौरान बाजार बंद रहेगा।

चंद्रभागा पवित्र संगम स्थल पर विसर्जित की जाएंगी अस्थियां कपूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अस्थियां चंद्रभागा पवित्र संगम स्थल पर विसर्जित की जाएंगी। लाहौल-स्पीति की जनता की मांग पर लाहौल-स्पीति के पूर्व विधायक रवि ठाकुर ने प्रतिभा सिंह और विक्रमादित्य सिंह से बात की है। उन्होंने बताया कि उन्होंने अस्थियां तांदी स्थित संगम स्थल पर विसर्जित करने की हामी भरी है। गौर हो कि इससे पहले अशोक सिंघल व वाजपेयी की अस्थियां इस संगम स्थल पर विसर्जित की जा चुकी हैं।

No comments