Breaking News

जानें सूर्य किस समय बदलेगा अपनी राशि, और क्या होंगे इसके मायनें

जानें सूर्य किस समय बदलेगा अपनी राशि, और क्या होंगे इसके मायनें

कलयुग के एकमात्र दृश्य देव और ग्रहों के राजा सूर्य शुक्रवार, 16 जुलाई 2021 को ग्रहों के मंत्री चंद्र के स्वामित्व वाली राशि कर्क में प्रवेश करने जा रहे हैं।

सूर्य देव के इस परिवर्तन का सभी 12 राशियों पर असर होगा। सूर्य देव यहां यानि कर्क राशि में 16 अगस्त 2021 तक रहेंगे, ऐसे में वे सभी 12 राशियों को प्रभावित करते रहेंगे। इसके बाद यह स्वयं की राशि सिंह में प्रवेश कर जाएंगे।

सूर्य देव के परिवर्तन का समय... सूर्यदेव 16 जुलाई 2021 को शाम 04 बजकर 41 मिनट पर कर्क राशि में गोचर करेंगे।

ऐसे समझें कर्क संक्रांति: हिंदू कैलेंडर में सूर्य ग्रह के गोचर को संक्रांति के नाम से जाना जाता है। और यह जिस भी राशि में प्रवेश करते हैं उसी के नाम के आधार पर संक्रांति जानी जाती है। ऐसे में कर्क में सूर्य के प्रवेश को कर्क संक्रांति के नाम से जाना जाएगा।

वहीं जानकारों के अनुसार कर्क संक्रांति प्रकृति में ऋतु परिवर्तन का भी संकेत है। यह एक खगोलीय घटना है और यह घटना तब होती है, जब सूर्य कर्क राशि में प्रवेश करता है।

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य भगवान को जगत की आत्मा और सभी ग्रहों का राजा माना गया है। वहीं कुंडली में ये आपके मान-सम्मान, यश, कलंक सहित अपमान के भी कारक माने गए हैं। वहीं मेष राशि में ये उच्च और तुला राशि में ये नीच के माने जाते हैं।

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार ऐसे में इस बार यानि कर्क संक्रांति के फलस्वरूप सूर्य देव के इस गोचर से जहां कुछ राशि के जातकों को समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, वहीं कुछ राशियों पर इसका शुभ प्रभाव भी पड़ेगा।

कर्क संक्रांति 2021 का इन राशियों पर होगा सबसे अधिक प्रभाव...

वृषभ राशि:- इस दौरान सूर्य आपकी राशि के तीसरे भाव यानि पराक्रम भाव में रहेंगे। जिसके प्रभाव से इस राशि के जातकों को इस दौरान अधिकांश कार्यों में सफलता हासिल होगी। वहीं पराक्रम में वृद्ध के चलते कार्यक्षेत्र पर सभी कार्य बिना किसी दबाव में आए ईमानदारी और जिम्मेदारी के साथ करेंगे, जिसका आपको जल्द ही लाभ भी मिलेगा। छात्रों के लिए भी यह समय अच्छा रहेगा।

मिथुन राशि:- सूर्य अपने इस गोचर काल में आपकी राशि से दूसरे यानि धन व वाणी भाव में रहेंगे। इसके चलते सूर्य का यह गोचर आपके लिए काफी अच्छा रहेगा। इस समय धन के मामले में निवेश से लाभ होगा, वहीं वाणी पर संयम रखना भी आवश्यक होगा अन्यथा वाद विवाद की स्थिति निर्मित हो सकती है। इस समय धन लाभ के प्रबल योगके बीच भाई-बहन से भी लाभ मिल सकता है।

कन्या राशि:- इस समय सूर्यदेव आपके 11वें भाव यानि आय के भाव में रहेंगे। जिसके चलते आय मे वृद्धि की संभावना है। इसके साथ ही इस समय आपको हर किसी का सहयोग तो मिलेगा ही, संबंध भी मजबूत व मधुर होंगे। इसके साथ ही समाज में मान सम्मान में वृद्धि के बीच पैसे की आवक में इजाफा होगा।

तुला राशि:- सूर्य इस परिवर्तन के साथ ही आपकी राशि से 10वें दशम भाव यानि कर्म भाव में आ जाएंगे। इससे चलते जहां नौकरी पेशा जातको के प्रमोशन के योग बनेंगे। वहीं यह शुभ समय आपके लिए जीवन में खुशियां और तरक्की लेकर आता दिख रहा है। इस दौरान पिता से खास जुड़ाव महसूस करेंगे। वहीं नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं के लिए भी ये समय खास रहने के साथ ही उनके नए अवसर प्रदान कर सकता है।

धनु राशि सूर्य इस समय आपसे आठवें भाव यानि आयु भाव में गोचर करेंगे। जिसके कारण आपको एक ओर जहां सेहत से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है, वहीं कार्यों में भी कुछ जगहों पर चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इस दौरान आपको अपने क्रोध को नियंत्रण में रखना होगा। जबकि सरकारी नौकरी में कार्यरत जातकों को सफलता और शोध से जुड़े विद्यार्थियों के लिए ये समय अच्छा रहने की संभावना है।

मकर राशि सूर्य इस समय आपसे सप्तम भाव यानि विवाह भाव मे गोचर करेंगे। ऐसे में सूर्य के इस गोचर से आपके वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानियां आ सकती हैं। ऐसे में आपको धैर्य से काम लेना होगा। वहीं जीवनसाथी से भी किसी बात को लेकर अनबन हो सकती है। मानसिक तनाव की स्थिति के चलते पिता पक्ष की तरफ से कार्यक्षेत्र में समस्या का सामना करना पड़ सकता है। दंपत्तियों में आपसी मतभेद की संभावना के साथ ही बिजनेस में पार्टनरशिप से घाटा हो सकता है। वहीं अविवाहितों को विवाह को लेकर और अधिक इंतजार करना पड़ सकता है।

कुंभ राशि इस समय सूर्य देव आपसे छठें यानि शत्रु व रोग भाव में गोचर करेंगे। जिसके चलते आपकी सेहत पर इसका नकारात्मक प्रभाव हो सकता है। जबकि इस दौरान आप शत्रुओं पर हावी हो सकते हैं।

वहीं इस समय आपको अपनी सेहत के साथ-साथ जीवनसाथी की सेहत का भी खास ध्यान रखना होगा। वहीं कोर्ट कचहरी के मामलों में आपको सफलता मिलेगी। वैवाहिक संबंधों में इस गोचर के दौरान कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

मीन राशि इस समय सूर्य आपसे पांचवे यानि बुद्धि और पुत्र भाव में मौजूद रहेंगे। ऐसे में इस दौरान आप अपनी बुद्धि का परिचय देते हुए कई ऐसे कार्य कर जाएंगे, जिन्हें अधिकांश लोग नहीं सुलझा पा रहे थे। इस समय गुस्से पर नियंत्रण रखते हुए आपको विवादों से दूर रहना चाहिए।

शिक्षा ग्रहण कर रहे व प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कर रहे बच्चों के लिए यह समय काफी खास रहने की संभावना है। इस राशि के जातकों को वाद-विवाद से बचना चाहिए। इस दौरान व्यापार में सोच-समझकर निर्णय लें वरना आपको बड़ा नुकसान हो सकता है।

इसके अलावा पैसों की लेन देने में सावधानी बरतने के अलावा इस अवधि में अपनी सेहत का ध्यान रखें। सहीं निर्णय न लेने पर यह समय आर्थिक समस्या का भी हो सकता है। जीवनसाथी से मनमुटाव की संभावना है।

No comments